अंजय यादव
आजमगढ़ । समाजवादी पार्टी की वरिष्ठ नेता व पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय चंद्रशेखर जी के करीबी रहे शंकर यादव ने गुरुवार को अपने निजी आवास बड़ेगांव में पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय

चंद्रशेखर जी की 14 वीं पुण्यतिथि सादगी के साथ मनाई। इस दौरान उन्होंने गरीब महिलाओं को अंग वस्त्र देकर सम्मानित किया। पुण्यतिथि में पहुंचे पत्रकार बंधुओं को भी अंग वस्त्र , सैनिटाइजर मास्क देकर सम्मानित किया। पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय शेखर जी को याद करते हुए सपा नेता शंकर यादव ने कहा कि मैं लंबे समय तक उनके साथ रहा ,वह हमेशा मुझे पुत्र की तरह स्नेह देते थे। आगे उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री जी हमेशा गरीबों के बारे में सोचते थे, उनके लिए हमेशा उनके दिल में एक तड़प बनी रहती थी, स्वर्गीय चंद्रशेखर जी गांव की पगडंडियों से होते हुए दिल्ली पहुंचे थे, इसलिए वे गांव की गरीबी को भली-भांति जानते थे। वह अक्सर कहा करते थे कि आंख से देखी हुई घटना से सही बात सामने आती है। इसलिए उन्होंने कन्याकुमारी से लेकर दिल्ली तक पदयात्रा किया। वे रचनात्मक कार्य में विश्वास रखते थे, उनके द्वारा बनाए गए आज दर्जनों आश्रम है, जो समाज सेवा के कार्य में लगे हुए हैं। वे हमेशा गरीबों नौजवानों व किसानों के लिए कार्य करते थे। वे समानता लाने की कोशिश करते थे। वे समाज के लिए कभी गद्दी की चिंता नहीं की। वे किसी भी सरकार में कभी मंत्री नहीं बने। एक प्रखर समाजवादी चिंतक व जनप्रिय नेतृत्वकर्ता  थे। मैं  उनकी पुण्यतिथि पर उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं।