अंजय यादव
 रौनापार (आजमगढ़): पिछले कई दिनों से उफनती सरजू नदी का जलस्तर तेजी से बढ़ते हुए खतरा बिंदु को पार कर गया था। लेकिन रविवार से नदी का जलस्तर धीरे-धीरे घटने लगा, जो सोमवार को स्थिर रहा हो गया। नदी के उतार-चढ़ाव के बीच देवारा क्षेत्र के लोगों की दुश्वारियां घटने का नाम नहीं ले रही हैं। समस्याएं जस की तस मुंह बाए खड़ी है। महुला गढ़वल बांध के उत्तर स्थित दर्जनों गांव पानी से चौतरफा घिर गए हैं। इनके जाने आने के मार्गों पर पानी भर गया है। पुलिस क्षेत्राधिकारी सगड़ी महेंद्र शुक्ला ने रौनापार थाने में बैठक कर देवारा वासियों को बाढ़ से सुरक्षा प्रदान करने के लिए पूरी कार्य योजना पर विचार विमर्श किया, और थानाध्यक्ष जितेंद्र कुमार सिंह को निर्देश दिया की बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में हमेशा पुलिस की टीम गस्त करती रहे। ताकि किसी को किसी तरह की परेशानी ना हो। वहीं क्षेत्राधिकारी सगड़ी ने सावन मास को लेकर पुलिस कर्मियों को आवश्यक निर्देश दिए, तथा थाने पर लंबित विवेचना को तत्काल निस्तारण करने के लिए आवश्यक निर्देश दिए। बैठक में थाना प्रभारी जितेन्द्र कुमार सिंह, महुला चौकी इंचार्ज मदन गुप्ता, यस आई रामजीत, एसआई श्याम लाल पाल सहित पुलिस कर्मी उपस्थित रहे।