अंजय यादव

रौनापार (आजमगढ़) : सगड़ी तहसील क्षेत्र के “चांदपट्टी बाजार” के करखियां मोढ से रौनापार तक की सड़क पर जगह जगह दो से ढाई फुट के गड्ढे हो गए हैं। इस सड़क से गुजरना आसान नही है। राहगीर गिर कर आए दिन चोटिल हो रहे हैं।

कई साल से लोग कई बार उच्चाधिकारियों से सड़क की मरम्मत कराए जाने की मांग की पर कोई सुनवाई नहीं हुई। इसके बाद विवश होकर ग्रामीण शुक्रवार को दर्जनों की संख्या में पानी से लबालब भरी सड़क पर धान रोपकर विरोध जताया। प्रदर्शन और नारेबाजी की। आक्रोशित ग्रामीणों ने कहा कि सड़क नहीं तो वोट नहीं देखें, बता देंं कि करीब 5 वर्ष पूर्व प्रधानमंत्री सड़क योजना के तहत इस सड़क का निर्माण भी कराया गया, पर घटिया निर्माण की वजह से एक साल के अंदर ही सड़क उखड़ने लगी और सड़क में बड़े-बड़े गड्ढे बन गए। और 4 साल से लोग चांदपट्टी बाजार में 3 से 4 फुट के गड्ढे में होकर गुजरते हैं, गुजरने वाले राहगीरों को लगता है की बरसात का दिन आ गया है । लेकिन ऐसा नहीं है राहगीरों को इसलिए लगता है कि 3 से 4 फुट के गड्ढे में लबालब पानी भरा रहता है, और लोगों को इस सड़क पर चलना है तो सड़क के किनारे दुकानों में हो कर चलना पड़ता है, या तो पानी में होकर जाना पड़ता है, यही नहीं चाँदपट्टी देवरांचल की प्रमुख बाजार है। हजारों लोगों का इस सड़क से प्रतिदिन आना जाना होता है । बरसात के दिनों में महीनों तक सड़क के बीचो बीच डेढ़ से 2 फुट पानी भरा रहता है। जो ग्रामीणों की परेशानी का सबब बना हुआ है। तहसील क्षेत्र के कई जनप्रतिनिधि इसी रास्ते से लग्जरी गाड़ियों से ग्रामीणों को छीटा मारते हुए गुजर जाते हैं ।लेकिन उनकी नजर इस समस्या पर कभी नहीं पड़ती। प्रदर्शन करने वाले ग्रामीणों ने कहा कि चांदपट्टी बाजार का रोड नहीं बना तो 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव का हम लोग बहिष्कार करेंगे। इस मौके पर अमीन बंजारा, हकीक मोहम्मद, सैफ, रामकुंवर, कलाम हुसैन, मन्नान, संतविजय, उमेश, सोनू, तबरेज आदि सैकड़ों लोग उपस्थित रहे।