मोहम्मद अकलेन

फूलपुर। प्रेमिका से शादी का वादा कर वादा तोड़ना प्रेमी पर भारी पड़ गया । मामले को लेकर प्रेमिका जब गांव वालो के साथ थाने पहुंची तो पुलिस ने पूरा मामला सुनने के बाद प्रेमी से कोतवाली परिसर में मंदिर में गांव के प्रधान की मौजूदगी में दोनों की शादी करा दी। प्रेमी प्रेमिका का यह मामला क्षेत्र में चर्चा का विषय हुआ है। 
यह पूरा मामला फूलपुर कोतवाली क्षेत्र के तिवरिया कला खुरासो गांव का है। जहां प्रेमी, प्रेमिका से अक्सर उसके गांव मिलने आता था। जब गांव वालों को पता चला तो वह शादी से इनकार करने लगा, लोगों ने पहले पंचायत किया, बाद में मामले को लेकर थाने पहुंच गए। प्रेमिका ने सोचा भी नही था, कि थाने पर शिकायत लेकर जाने से उसकी शादी उसी के प्रेमी से करा दी जाएगी। पहले तो पुलिस को लगा कि मामला कुछ और है लेकिन जब प्रेमिका ने कहानी बताई तो पुलिस भी भौचक्का रह गई।प्रेमिका ने पुलिस को बताया कि उसका अपने प्रेमी सुभाष कोतवाली क्षेत्र के मुस्तफाबाद निवासी से काफी दिनो प्रेम है। प्रेमिका विधवा होने के चलते शादी को लेकर प्रेमी हीला हवाली कर रहा था, जिसको लेकर कई बार तकरार भी हुई, लेकिन शुक्रवार को दोनों के बीच तकरार इतना बढ़ गया, कि प्रेमिका मनीषा गांव वालों को लेकर कोतवाली पहुच गई। पुलिस ने पूरा मामला सुनने के बाद दोनों पक्ष को बुलाकर सुलह समझौता कराने की कोशिश की, इस दौरान थाने पर ही दोनों परिवार के बीच माहौल काफी गर्म रहा। लेकिन मामले की सुलह के बाद प्रेमी प्रेमिका ने शादी की इच्छा जताई, तो दोनों परिवार वालों की रजामंदी से प्रधान और ग्रामीणो की मौजूदगी में थाना परिसर के मंदिर में  प्रेमी युगल की शादी करा दी। पुलिस के अनुसार दोनों का प्रेम प्रसंग काफी दिनों से चल रहा था। शुक्रवार को मामला इतना बढ़ गया कि प्रेमिका पंचायत के बाद गांव वालों को लेकर थाने पहुंच गई। बता दे कि मनीषा की शादी 7 वर्ष पूर्व जगदीश से हुई थी। मनीषा दो बच्चो की मां है। उसके पति का डेढ़ वर्ष पूर्व निधन हो गया था।  तभी से सुभाष अक्सर मनीषा के घर आया जाया करता था।