सम्मेलन में अंगवस्त्र देकर किया गया प्रबुद्धजनों का सम्मान ।

शैलेश सिंह

बैरिया बलिया। समाजवादी चिंतक छोटे लोहिया जनेश्वर मिश्र की जयंती पर आयोजित प्रबुद्ध वर्ग के सम्मेलन के मुख्य अतिथि विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष माता प्रसाद पांडे ने प्रबुद्ध वर्ग को सम्बोधित करते हुए कहा कि आज लोकतंत्र पर खतरा मंडरा रहा हैं प्रबुद्ध वर्ग की जिम्मेदारी हैं कि वो आगे आकर इस खतरे से लोंगो को आगाह करें। उन्होंने कहा कि आज जिस तरह के कानून बन रहे है तथा जिस प्रकार लोंगो का उत्पीड़न किया जा रहा हैं इसके पहले कभी देखने को नहीं मिली। समाज को दिशा देने वाले लोंगो की आजादी पर भी हमला हो रहा हैं अगर आज फेसबुक व वाट्सप पर सरकार के खिलाफ कुछ लिख दे तो आपके घर थानेदार आ जायेगा। आज समाज को बचाने की चुनौती हैं। जिस प्रकार मुकदमे लिखवाए जा रहे है कभी देखने को नहीं मिला हालांकि माननीय हाईकोर्ट व सुप्रीमकोर्ट समय समय पर अपनी राय ब्यक्त कर सरकार को आइना दिखाने का कार्य किया हैं परंतु वर्तमान सरकार अपने राह चलती रही हैं प्रबुद्ध वर्ग इस अहंकारी सत्ता को उखाड़ फेंकने का कार्य करें। अगर आप चुप रहे तो हमारी संस्कृति भी धीरे धीरे खत्म हो जाएगी। इस मौके पर मनोज पांडे ने कहा कि यह धरती बागियों की धरती हैं। 1857 में बलिया के मंगल पांडे ने अंग्रेजी हुकूमत के खिलाफ बिगुल फूंका था आज समय आ गया हैं जब परिवर्तन की लड़ाई की अगुवाई आप करें। इस कार्यक्रम में बोलते हुए अभिषेक मिश्र ने कहा कि इस शहर का हाल यहां की सड़कें बया कर रही हैं। बलिया से चलते हुए 25 जगह हम सबके स्वागत के लिये लोग खड़े थे। मैने पूछा कि यहां का एम पी व एमएलए किस पार्टी का हैं उन्होंने बताया कि बीजेपी का। सत्ता पक्ष का विधायक व एम पी होने के बावजूद सड़को की इतनी दुर्दशा देखकर लगता हैं कि यहां विकास की क्या स्थिति हैं। लोंगो ने बताया यहां जो भी विकास हुआ हैं वह सपा के सरकार में ही हुआ। इस सरकार ने तो बस लॉलीपॉप दिखाया हैं। अभिषेक मिश्र ने कहा कि कोरोना के दूसरे लहर में अगर कुछ काम आया तो वह अखिलेश सरकार का एम्बुलेंस ही था। वर्तमान सरकार पूरी तरह फेल हो चुकी हैं। महंगाई चरम पर है किसान परेशान है। इस मौके पर संतोष पांडे ने कहा कि मुझे यह कहने में संकोच नहीं हैं कि यह सरकार ब्राह्मण विरोधी हैं। रीता बहुगुणा जोशी का घर जलाने के आरोपी को सरकार अपनी पार्टी में मिला रहे है । परशुराम जयंती की छुट्टी खत्म कर दी गई। हम भगवान परशुराम की सबसे ऊंची मूर्ति लखनऊ में बना रहे है। हमारी सरकार आएगी तो पुनः परशुराम जयंती पर अवकाश घोषित होगा।

बैरिया। समाजवादी विचारक जनेश्वर मिश्र के आंगन की मिट्टी समाजवादी पार्टी के नेता सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की मांग पर लखनऊ ले गये। उन्होंने कहा कि यहां की मिट्टी अखिलेश जी ने मांगी हैं। छोटे लोहिया का यह घर हमारे लिये किसी तिर्थ से कम नहीं हैं। इस मिट्टी की सुगंध देश भर में समाजवाद की विचारधारा को पहुंचाने का कार्य करेगी। इस मौके पर सभी अतिथियों को अंग वस्त्रम, तलवार, मुकुट आदि देकर सम्मानित किया गया।

बैरिया। शुभ नथही में छोटे लोहिया की जयंती पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्य रूप से सपा के जिलाध्यक्ष राजमंगल यादव, जिला पंचायत अध्यक्ष आनन्द चौधरी, राजीव राय, नारद राय, अनिल राय, डॉ जनार्दन राय, संजय उपाध्याय, पूर्व विधायक जयप्रकाश अंचल, सुभाष यादव, मनोज सिंह, सूर्यभान सिंह, मिर्तुंजय तिवारी बबलू तिवारी, लक्ष्मण गुप्ता, जयप्रकाश यादव मुन्ना, संजय मिश्र, एस एस तिवारी, यादव, राजन कनौजिया, श्यामू ठाकुर, देवानन्द उपाध्याय, अनिल राय, प्रदीप यादव, विवेक तिवारी शामिल थे। इस मौके पर रंगनाथ मिश्र, डॉ गणेश पाठक, राजप्रताप यादव, अजय सिंह, सज्जन यादव, अनूप वर्मा,अमरजीत यादव,डॉ राम शरण पांडे, कृष्ण देव मिश्र, चन्द्रशेखर उपाध्याय, ओम प्रकाश उर्फ लालू यादव,सहित दर्जनों गणमान्य लोंगो को मंच पर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम के आयोजक सनातन पांडे व छोटे लोहिया के अनुज पंडित तारकेश्वर मिश्र ने कार्यक्रम में आये लोंगो का आभार व्यक्त किया।