रिपोर्ट, जेके शुक्ला
आज़मगढ़। पवई थाना के अंतर्गत आने वाले गाँव प्रतापपुर में कुछ दिन पहले अर्धनिर्मित मकान में एक महिला संदेहास्पद मौत हो गई थी। बाद में मृतक सीमा पत्नी हरीश के पिता कांतिलाल निवासी अहिरौला निवासी ने मृतक सीमा के पिता द्वारा तहरीर उनके परिवार के अन्य लोगो के खिलाफ दहेज हत्या का मुकदमा थाना पवई में दर्ज कराया था, जिसमें पुलिस क्षेत्राधिकारी फूलपुर के निर्देशन व थानाध्यक्ष पवई बृजेश सिंह मय हमराहियान के अपराध एवं अपराधियों तथा संदिग्ध व्यक्ति / वाहन चेकिंग एवं वांछित अभियुक्ततो की गिरफ्तारी के विरुद्ध चलाये जा रहे अभियान के दौरान क्षेत्र मे मौजूद थे, उसी दौरान मुखबिर खास द्वारा सूचना मिली की मु0अ0सं0 65/21 धारा 498ए ,304 बी भादवि व ¾ डीपी एक्ट से सम्बन्धित अभियुक्तगण कही जाने के फिराक मे दुक्खी मोड पर मौजूद है, इसी सूचना पर थानाध्यक्ष मय हमराहियान के दुक्खी मोड वहद ग्राम बागबहार पहुचे कि वहां पर खडे व्यक्ति पुलिस वालो को देखकर भागना चाहा कि हमराही पुलिसकर्मियों की मदद से पकड लिया गया, जब पुलिस ने पूछताछ किया तो उसने अपना नाम हरीश राजभर पुत्र स्व0 रामप्रसाद राजभर, व दूसरे ने अपना नाम शनी पुत्र स्व0 रामप्रसाद राजभर ,सूरज पुत्र स्व0 रामप्रसाद राजभर, किशनौता पत्नी स्व0 रामप्रसाद राजभर निवासीगण प्रतापपुर थाना पवई जनपद आजमगढ बताया ।