वरूण सिंह

आज़मगढ़ : एक सप्ताह पूर्व सूबे के मुखिया सीएम योगी आदित्यनाथ से केंद्रीय ब्राह्मण महासभा के राष्ट्रीय महासचिव पं0 अजीत मिश्रा की खास मुलाकात हुई थी। इस दौरान केंद्रीय ब्राह्मण महासभा संगठन से प्रभावित होकर सीएम ने राष्ट्रीय महासचिव अजीत मिश्रा को देशभर में संगठन को बड़े पैमाने पर खड़ा करने की बात कही थी जिसके बाद राष्ट्रीय महासचिव के नेतृत्व में पिछले एक सप्ताह में बाइस सौ से अधिक ब्राह्मणों ने संगठन से जुड़कर ब्राह्मणों के हितों के लिए आवाज उठाने का संकल्प लिया। शायद यही कारण है कि आज संगठन की रिपोर्ट कार्ड देख मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पं0 अजीत मिश्रा को सम्मानित करते हुए गोरक्षनाथ मंदिर में विष्णु मंदिर के महंत एवं मठ व्यवस्था ओएसडी पं0 द्वारिका प्रसाद तिवारी जी के द्वारा विशेष पूजन एवं सम्मानित किया गया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने संगठन के राष्ट्रीय महासचिव पंडित अजीत मिश्रा की प्रशंसा करते हुए कहा कि आपके द्वारा ब्राह्मणों के लिए जो आवाज उठाई जा रही है वह एक सराहनीय पहल है। इस संगठन को मजबूती के लिए हमारी सरकार आपके साथ है। ब्राह्मण सभी के पूज्यनीय होते हैं और उन्हें सम्मान मिलना चाहिए सरकार इसके लिए कटिबद्ध है। सीएम से सम्मानित होने के बाद राष्ट्रीय महासचिव पंडित अजीत मिश्रा ने कहा कि पिछले दो दशक से सपा बसपा की सरकार में ब्राह्मणों की उपेक्षा हुई है और जब सूबे के मुखिया ने ब्राह्मणों को सम्मान दिया तो विपक्ष को यह बात रास नही आई और आज उन्ही के ऊपर ब्राह्मण विरोधी और ब्राह्मणों पर अत्याचार का आरोप लगा जनता गुमराह करने का काम किया गया। सपा बसपा की तुच्छ मानसिकता ब्राह्मण समझ चुके है। पूरी ब्राह्मण सभा माननीय योगी जी के साथ खड़ी है और एक बार फिर उनके नेतृत्व में भाजपा सरकार बनाने जा रही है। इस दौरान डॉक्टर सिद्ध नाथ तिवारी,शिवम, चुन्नू पंडित,शशांक पाण्डेय,पराग डेयरी के अध्यक्ष रंजीत सिंह,शांतनु पाण्डेय,गोपाल जी उपाध्याय व अन्य लोग अंगवस्त्रम फूल माला आदि पहनाकर स्वागत किए।