वरूण सिंह

शिव चर्चा ने जाने के लिए तैयार महिला जब घर से निकलने लगी तो घर में सांप देखकर भगवान का दूत समझा और गले में लपेटकर पूजा-अर्चना करना महिला के लिए जानलेवा साबित हुआ, यह घटना चतरा जिले के हंटरगंज प्रखंड में सोमवार देर शाम को हुई, जानकारी के अनुसार प्रखंड के कर्मा पंचायत स्थित रक्शी गांव में लालदेव भुईयां की पत्नी रुनिया देवी घर से तैयार होकर शिव चर्चा कार्यक्रम में शामिल होने जा रही थी, इसी दौरान एक जहरीला सांप उसके घर में निकल आया, ग्रामीणों ने बताया कि रुनिया देवी ने सर्प को भगवान शिव का दूत समझकर पकड़ लिया, और अपने गले में लपेट लिया, इसके बाद वह सांप के साथ पूजा-पाठ करने बैठ गई, देखते ही देखते गांव के लोगों की भीड़ जमा हो गई, महिला सांप के साथ देर तक शिव चर्चा और भजन-कीर्तन में मगन रही, कुछ गांववाले ढोल बजाकर कीर्तन में उसका साथ देने लगे, भजन-कीर्तन के दौरान ही सर्प ने महिला को शरीर पर कई जगह काट लिया, लेकिन पूजा-पाठ में लीन महिला और वहां मौजूद लोगों ने इस ओर ध्यान नहीं दिया, धीरे-धीरे जब शरीर में विष का असर बढ़ने लगा, तो रुनिया देवी अचेत होकर गिर गई, यह देखकर वहां मौजूद लोगों में हड़कंप मच गया, इसके बाद आनन-फानन में परिजन उसकी झाड़फूंक कराने लगे, लेकिन देखते ही देखते महिला की मौत हो गई, ग्रामीणों का कहना था कि अंधविश्वास में रुनिया की जान चली गई, समय रहते अस्पताल ले जाया गया होता तो शायद उसकी जान बच जाती ।

यूपी बीजेपी मंडल अध्यक्ष को सब इंस्पेक्टर और सिपाहियों ने पीटा एसएसपी ने किया लाइन हाजिर दो पक्षों में कराने गए थे समझौता

यूपी के अलीगढ़ में बीजेपी के मंडल अध्यक्ष की पुलिसकर्मियों ने उस समय जमकर पिटाई कर दी, जब मंडल अध्यक्ष दो पक्षों में हुई मारपीट के बाद थाने में समझौता कराने गए थे, जानकारी के अनुसार, सब इंस्पेक्टर और सिपाहियों ने उन्हें लाठी-डंडों से पीटा है, यह घटना अतरौली थाना इलाके के जिरौली धूम सिंह चौकी में घटित हुई, संज्ञान में आने के बाद चौकी इंचार्ज और दो सिपाहियों को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है, एसएसपी कलानिधि नैथानी ने इस मामले की जांच एसपी ग्रामीण शुभम पटेल को सौंपी है, बताया जा रहा है, कि गांव में दो पक्षों के बीच विवाद के बाद मारपीट हो गई थी, पुलिस लड़ने वाले दोनों पक्षों को थाने लेकर आ गई, इन लोगों को छुड़ाने के लिए थाने पहुंचे भाजपा के मंडल अध्यक्ष दिगंबर सिंह के साथ चौकी इंचार्ज और दो सिपाहियों ने मारपीट की, बीजेपी के कार्यकर्ताओं को जैसे ही घटना की जानकारी मिली, उन्होंने हंगामा करते हुए थाने का घेराव कर दिया, मौके पर बीजेपी के जिलाध्यक्ष भी पहुंच गए, तब जाकर थाने से मंडल अध्यक्ष को छोड़ा गया, एसएसपी को इस घटना के बारे में बताया गया, इसके बाद उन्होंने एसपी को जांच का जिम्मा सौंपा, वहीं घटना के बारे में एसपी ग्रामीण शुभम पटेल ने कहा कि अतरौली थाना इलाके के गांव में दो पक्षों के बीच लड़ाई हो गई थी, इसकी सूचना पर पुलिस वहां पहुंची, और दोनों को थाने ले आई, बताया जा रहा है कि इसके बाद चौकी इंचार्ज और दो सिपाहियों ने दिगंबर सिंह के साथ मारपीट और अभद्रता की, कार्रवाई करते हुए तीनों को लाइन हाजिर किया गया है।