वरूण सिंह
मऊ के विधायक मुख्तार अंसारी के करीबी गुर्गे और बैंकों से करोड़ों की ठगी के आरोपित शकील हैदर को आखिरकार वजीरगंज पुलिस ने शनिवार देर रात दबोच लिया, सूत्रों के मुताबिक शकील हैदर मुख्तार का बेहद खास है, उसके खिलाफ वजीरगंज कोतवाली समेत अमेठी व कई अन्य जनपदों में मुकदमे दर्ज हैं, शकील के खिलाफ वजीरगंज कोतवाली में एक अगस्त से तीन अगस्त के बीच कुल चार मुकदमे दर्ज हुए थे, शकील हैदर ने जेहटा रोड स्थित पांच बीघे के प्लॉट पर फर्जी दस्तावेजों के आधार पर अमीनाबाद स्थित बैंक से 66 करोड़ रुपये का कर्ज लिया था, इसके बाद उस प्लॉट को 70 से 75 लोगों को बेचा था, इस बारे में जब खरीदारों को जानकारी हुई, और उन्होंने विरोध किया तो शकील और उसके गुर्गे उन्हें धमकाने लगे, शकील ने महानगर कोतवाली में तैनात दारोगा समेत अन्य वादी मुकदमा को धमकी दी थी, इंस्पेक्टर वजीरगंज धनंजय पांडेय ने बताया कि शकील को गिरफ्तार कर लिया गया है, उससे पूछताछ में कई अन्य तथ्यों के बारे में जानकारी हुई है, उनकी पड़ताल की जा रही है। शकील हैदर लखनऊ में रहकर मुख्तार का नेटवर्क चलाता था, वह बाहुबली मुख्तार का भय दिखाकर लोगों से रंगदारी भी वसूलता था, इंस्पेक्टर ने बताया कि शकील के खिलाफ दर्ज जालसाजी के मुकदमे में बैंक अधिकारियों और कर्मचारियों ने उसे फर्जी दस्तावेजों पर कैसे कर्ज दिया इसकी भी पड़ताल की जा रही है ।