राजेश सिंह
अतरौलिया थाना क्षेत्र के पटाधन निवासी शनि विश्वकर्मा पुत्र स्व0 जितेंद्र विश्वकर्मा अपने माता-पिता का इकलौता संतान था, वह कई दिनों से प्रशिद्ध पौहारी बाबा के स्थान पर बने पोखरे में गांव के लड़कों के साथ प्रतिदिन स्नान करने जाता था । रोज़ की भांति सोमवार को सुबह 10:30 बजे के करीब वह पोखरे में नहाने के लिए ऊपर से छलांग लगाई, छलांग लगाने के बाद उसका कोई पता ही नही चला। मृत्यु होने के उपरांत ही वह पोखरे में पानी में ऊपर दिखायी दिया। सोमवार के दिन पौहारी बाबा के स्थान पर भव्य मेले का आयोजन होता है, यहां आस-पास के गांव के लोग पोखरे में स्नान कर बाबा का दर्शन करते हैं। श्रद्धालुओं ने ही शनि का शव पोखरी में देखा और लोगो की मदत से बाहर निकाला । स्थानीय लोगो ने इसकी सूचना अतरौलिया थानाध्यक्ष को दी । जिसकी सूचना मिलते ही नायब तहसीलदार धर्मेंद्र सिंह व कानूनगो प्रेम प्रकाश भी मौके पर पहुंचे । पुलिस मौके पर पहुंचकर शव को अपने कब्जे में लेकर पीएम के लिए भेज दिया । सनी अपनी माता के जीने का एक मात्र सहारा था, जिसकी मौत से क्षेत्र में मातम छाया हुआ है। वहीं परिजनों का रो रो कर बुरा हाल हो गया है।