विनय शंकर राय
लालगंज (आजमगढ़ ) दी बार एसोसिएशन के अधिवक्ताओं ने उ.प्र.के पूर्व मुख्यमंत्री व राजस्थान तथा हिमांचल के पूर्व राज्यपाल कल्याण सिंह के निधन पर मंगलवार को शोक सभा कर अपने को न्यायिक कार्यो से विरत रखा । शोक सभा को

सम्बोधित करते हुए वरिष्ठ समिति के चेयरमैन समर बहादुर सिंह ने कहा भारतीय राजनीति में कल्याण सिंह जैसे लोग विरलय पैदा होते हैं, स्वर्गीय कल्याण सिंह अपने सिध्दांतों से कभी समझौता नही किया, भले कुर्सी को त्याग दिया । उन्होने कहा कि रामजन्मभूमि के लिए उन्होने अपनी कुर्सी को त्याग कर एक मिशाल कायम किया था । कल्याण सिंह से आज के युवाओं को प्रेरणा लेनी चाहिए । कल्याण सिंह के निधन पर अधिवक्ताओं ने दो मिनट का मौन रख कर ईश्वर से प्रार्थना किया, कि ईश्वर उनकी आत्मा को शान्ति प्रदान कर परिवार एवं शुभचिंतकों को इस दुःख को सहन करने कि शक्ति प्रदान करें । शोक सभा में धर्मेश पाठक,  राजेन्द्र प्रसाद सिंह, इन्द्रभानु चौबे, अमर नाथ यादव, नगेन्द्र सिंह, ओम प्रकाश वर्मा, प्रसिद्घ नरायन सिंह, अशोक कुमार अस्थाना, देवधारी राय, सन्तोष कुमार सिंह, राजेन्द्र लाल श्रीवास्तव, आनन्द कुमार श्रीवास्तव, विनय शंकर राय, राजनाथ यादव, देवेंद्र नाथ पाण्डेय, सुरेन्द्र कुमार सिंह, अनुज कुमार तिवारी, रवीन्द्र प्रताप चौहान, विजय बहादुर प्रजापति,संजय कौशिक सहित काफी संख्या में लोग उपस्थित थे ।