पिन्टू सिंह 

(बलिया) पिछले हफ्तों सुप्रीम कोर्ट के बाहर स्वयं को आग के हवाले करने वाली 24 साल की दुष्कर्म पीड़िता ने आखिरकार मंगलवार को सुबह दम तोड़ दिया।
इस मामले में युवक की 21 अगस्त को पहले ही मौत हो गयी थी।
बताते चलें कि 16 अगस्‍त की सुबह पीड़िता और उसके पैरोकार युवक साथी ने सुप्रीम कोर्ट के गेट पर ज्वलनशील पदार्थ छिड़क कर आग लगा ली थी।
सुप्रीम कोर्ट के गेट नम्बर डी पर 16 अगस्‍त की दोपहर उस समय अफरातफरी मच गया था जब यूपी के बलिया जिले की दुष्‍कर्म पीड़‍ित युवती और उसके वाराणसी के साथी ने खुद पर पेट्रोल डालकर अपने आप को आग लगा लिया था।
आरोप है कि यूपी के मऊ जनपद से बसपा के घोसी लोकसभा के सांसद अतुल राय ने लोकसभा चुनाव से पूर्व युवती के साथ दुष्‍कर्म आरोप लगाया था। इस मामले में युवती ने लंका थाने में मुकदमा भी दर्ज करायी थी । मुकदमा दर्ज होते ही अतुल राय फरार चल रहे थे और फरारी के दौरान ही घोसी लोकसभा का चुनाव लड़ा। इस दौरान जनता जनार्दन का आशीर्वाद मिला और वह चुनाव जीत भी गए लेकिन पूरे मामले पर अभियोग पंजीकृत होने की वजह से उनको सरेंडर करना पड़ा था।
प्राप्त जानकारी के अनुसार इस समय प्रयागराज के नैनी जेल में बंद हैं।