कभी हक में तो कभी खिलाफ लिख दूगां , मै आईना हूँ जो भी देखूगा, साफ साफ लिख दूगां

पिन्टू सिंह
(बलिया) जी हाँ उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा शुक्रवार को कोविड टीकारण का जनपद सहित रसड़ा तहसील क्षेत्र में मेगा शो के जरिये अधिक से अधिक लोगों को टीकारण कराने के लिए बिना पंजीयन का टीकाकरण किया गया।
रसड़ा ब्लाक क्षेत्र में 3600 लोगों को टीका लगाने के लक्ष्य के सापेक्ष 18 केंद्र बनाये गए थे। सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र रसड़ा , जूनियर विधालय रसड़ा,प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र सरायभारती, जाम,कोटवारी, नदौली प्राथमिक विद्यालय,मुडेरा,चन्दवार ,सहाबलपुर इन केंद्रों पर व्यवस्था का आलम यह रहा कि भारी भीड़ के कारण कई बार हंगामे की स्थिति कायम रही वहीं रसड़ा सीएचसी केंद्र पर दुर्व्यवस्था का आलम यह रहा कि टीका बिलंब से पहुंचने तथा भारी भीड़ कई बार बेकाबू हो गई जिसकों सभालने के लिए स्वयं क्षेत्राधिकारी, व सीटी इन्चार्ज को लगना पडा बाद महिला आरक्षी को भी बुलाया गया जहा भीड को लाईन लगाया गया जिससे टीकारण में लगे कर्मचारी काफी असहज स्थिति में आ गये तथा पुलिस का सहारा लेना पड़ा। टीकारण करण कराने आये लोगों का आरोप है कि यदि टीकारण की बड़े पैमाने पर तैयारी की गई थी तो व्यवस्था सीमित क्यों की गई। वैसे अधिकांश केंद्र पर बहुत से लोग टीकारण से वंचित हो रहे।
घटों लाईन मे लगने के बाद भी उनका नम्बर नहीं आया।
इस संबंध में संवाददाता ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी तन्मय कक्कड़ ध्यान आकृष्ट कराते हुए जिम्मेदारी से पक्ष जानकारी करने के लिए बातचीत किया उन्होंने कहा स्टेशन इंन्चार्च से बात करते हैं और कारवाई भी होगीं।
वहीं इस संबंध में क्षेत्रीय विधायक उमाशंकर सिंह से बातचीत किया गया तो उन्होंने स्वास्थ्य विभाग को कहा कि लोगो मे जागरूकता आ गई स्वास्थ्य विभाग मैगा शो का तैयारी नहीं किया था वरना दुर्वयवस्था नहीं होती लोगों को कोविड टीकाकरण से वंचित नहीं होना पडता ।
हमने 351 बेटियों की शादी किया था लाखों लोग आये किसी को भी परेशानी नहीं हुई।
उन्होंने गंभीरतापूर्वक लिया और कहा कि जिलाधिकारी से इस प्रकरण पर बात करते हैं।