बलिया समाजवादी पार्टी से नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी को छोड़ किसी भी सपा नेता और स्वागत कार्यक्रम में मौजूद लोगों के चेहरे पर मास्क नही दिखा। बलिया जिला पंचायत के प्रांगण में कोरोना नियमों की बेखौफ धज्जियां उड़ाई गयी। सपा में सदस्यता लेने के बाद बलिया में प्रथम आगमन के बाद समाजवादी पार्टी के पूर्व मंत्री अम्बिका चौधरी के स्वागत कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जहां सैकड़ो की संख्या में सपा समर्थक और कार्यकर्ता मौजूद रहे।इस दौरान मंच पर बैठे तमाम समाजवादी पार्टी के नेताओ और समर्थको ने कोविड के किसी भी नियम का पालन न करते हुए कोविड गाइडलाइंस को चुनौती देने का काम किया है। आप को ज्ञातव्य हो कि विधान सभा नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद कोरोना का शिकार हो चुके है नतीजन वो अक्सर मास्क का प्रयोग करते है और आज भी चेहरे पर मास्क दिखा लेकिन किसी ने उन्हें देख कर नसीहत नही लिया नतीजन मंच और मंच के निचे बैठे लोगों ने कोविड नियामो के तहत मास्क लगाना सायद मुनासिफ नही समझा।देश मे कोरोना के तीसरे लहर ने दस्तक दे दिया है कई राज्यो में कोरोना के मामले बढ़ रहे है रोज सैकडों लोग अपनी जान गंवा रहे है ऐसे में स्वागत कार्यक्रम का ये नज़ारा चौकाने वाला है। ये हाल सिर्फ सपा के लिए नही बल्कि अन्य सभी राजनीतिक पार्टियों के लिए जो आम जनता की बाली चढ़ाने जैसा है। वही प्रशासन ऐसे कार्यक्रम के आयोजन को लेकर न केवल मुखदर्शक बनी है बल्कि कुम्भकर्णी नींद में सोई है।