बलिया। जिला समाज कल्याण अधिकारी अभय कुमार सिंह ने बताया है कि बालक छात्रावास हरपुर एवं राजकीय अनुसूचित जाति/बालिका छात्रावास बलिया में संचालित है जिसमें छात्रों/छात्राओं के लिए नि:शुल्क आवास एवं अन्य सुविधाएं उपलब्ध है। छात्रावास में प्रवेश हेतु वहीं छात्र/छात्राएं अर्ह होंगे जो कि समाज कल्याण विभाग अथवा कल्याण सेक्टर के अन्य विभाग द्वारा प्रदत्त की जा रही छात्रवृत्ति प्राप्त करने की पात्रता रखते हो। छात्रावास में प्रवेश हेतु कुल उपलब्ध क्षमता का 70 प्रतिशत स्थान अनुसूचित जाति/जनजाति अभ्यर्थियों के लिए आरक्षित होंगे तथा अवशेष 30 प्रतिशत अन्य पिछड़े वर्ग एवं सामान्य वर्ग के छात्रों के लिए आरक्षित होगे। विकलांग छात्रों को प्रवेश हेतु वरीयता प्रदान की जाएगी। छात्रावास में प्रवेश छात्र की योग्यता/उच्च शिक्षा की प्राथमिकता/मूल निवास स्थान की दूरी आदि के आधार पर होगा। सामान योग्यता के छात्र/छात्राओं के प्रवेश हेतु प्राथमिकता का आधार आर्थिक होगा, जो छात्र/छात्रा इस छात्रावास में प्रवेश लेना चाहते हैं वे छात्रावास अधीक्षक/प्रभारी अधीक्षक राजकीय अनुसूचित जाति बालक/बालिका छात्रावास 30 सितंबर के मध्य किसी भी कार्य दिवस में संपर्क कर नि:शुल्क आवेदन पत्र प्राप्त कर सकते हैं।