बिकाश सिंह

राज्यमंत्री (स्वतन्त्र प्रभार) उपेंद्र तिवारी ने सदर तहसील में आयोजित बैठक में दिए निर्देश 

बलिया। राज्यमंत्री स्वतन्त्र प्रभार उपेंद्र तिवारी ने सदर तहसील सभागार में बैठक कर निरन्तर पुनरीक्षण-2021 मतदाता सत्यापन कार्यक्रम की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि मतदाता सूची एकदम शुद्ध होनी चाहिए। कोई भी फर्जी नाम उसमें नहीं होना चाहिए। पात्र का नाम सूची में रहना चाहिए और अपात्र का नाम बाहर होना चाहिए। जिस क्षेत्र का मतदाता हो, उसी में उसका नाम होना चाहिए। 

उन्होंने कहा कि अगर कहीं शिकायत के बाद जांच में गलती पाई जाती है तो दोषी की जवाबदेही तय की जाएगी। गलत करने वाले किसी भी हाल में बचेंगे नहीं। इसलिए निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देश के अनुसार ही सत्यापन कार्यक्रम की कार्यवाही सुनिश्चित कराएं।
मतदेय स्थल के सम्बंध में कहा कि आयोग का भी निर्देश है कि मतदाता के घर से करीब उसका मतदेय स्थल हो। उदाहरण सहित बताया कि आज भी कई जगह बूथ दूर होने से लोगों को असुविधा हो रही है। इसको भी ठीक कराने के लिए जरूरी कार्यवाही हो।
इनसेट
*सर्वे में लाएं तेजी, ताकि जल्दी मिले किसानों को मुआवजा

मंत्री श्री तिवारी ने कहा कि बाढ़ की विभीषिका की भरपाई करनी मुश्किल है, पर राहत जरूर दे सकते हैं। किसानों की फसल बर्बाद हो गई। उसका सर्वे युद्धस्तर पर कर लिया जाए। जितना जल्द हो, किसानों को मुआवजा देने की कार्यवाही सुनिश्चित कराई जाए। कोई भी किसान मुआवजा से वंचित नहीं रहना चाहिए।
जनसमस्याओं को लेकर उन्होंने कहा कि गांव में बैठकर ही गांव के लोगों को समस्या का निस्तारण सुनिश्चित कराया जाए। इसीलिए गांव में हप्ते में एक या दो दिन अनिवार्य रूप से बैठने का निर्देश है। लेखपाल-कानूनगो से कहा कि सही ढंग से अपना काम करें तो जिला प्रशासन के साथ सरकार की छवि भी बेहतर होगी। उन्होंने कहा कि गांव में कहीं जमीन खाली हो तो बताएं, उसमें ओपन जिम बनाया जाएगा। बैठक में एसडीएम जुनैद अहमद, नायब तहसीलदार अजय सिंह सहित लगभग सभी कानूनगो-लेखपाल थे।