आफताब आलम
आजमगढ़ । भोजपुरी फिल्म स्टार और भारतीय जनता पार्टी के रंग में रंगे दिनेश लाल यादव निरहु ने एक बार फिर समाजवादी पार्टी के गढ़ आजमगढ़ पहुंचकर यहां के सांसद सपा के अध्यक्ष अखिलेश यादव को ललकारा है। दिनेश लाल यादव ने गीत के माध्यम से तंज कसा की चाहे जितना भी जोर लगा ले अखिलेश यादव द्वारा वह अब सत्ता में आने वाले नहीं है। करीब छः माह बाद आजमगढ़ पहुंचे निरहुआ को देखने के लिए हजारों युवाओं की भीड़ उमड़ पड़ी। इस दौरान कोविड गाइडलाइन की जमकर धज्जियां उड़ी। दिनेश लाल यादव भाजपा के प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्य भी हैं और अखिलेश यादव के खिलाफ आजमगढ़ से चुनाव लड़े थे।भोजपुरी फिल्म स्टार दिनेश लाल यादव ने अखिलेश यादव को ही निशाने पर रखा। कहा कि उनकी सोच अच्छी थी लेकिन धरातल पर नहीं उतार सके। उन्होंने निर्णय लिया था कि किसी भ्रष्टाचारी, बदमाश की टिकट नहीं देंगे। उन्होंने चुटकी ली कि पहले अखिलेश यादव को बदमाशों, माफिया, गुण्डों से परहेज था। लेकिन हाल ही में मुखतार अंसारी के भाई को शामिल करने की ओर इशारा कर कहा कि अब सपा को कोई माफियाओं से कोई परहेज़ नहीं है। उन्होंने दावा किया कि अगली सरकार उत्तर प्रदेश में आदित्यनाथ योगी की ही बनने वाली है क्योंकि माफिया, गुंडों का सफाया वही कर सकते हैं। वहीं राहुल गांधी व अखिलेश यादव पर परिवार वाद और जाति वाद की राजनीति करने का आरोप मढ़ते हुए कहा कि अब इसका दौर खत्म हो चुका है। दिनेश लाल यादव ने खुद के विधानसभा के चुनाव लड़ने की अटकल को खारिज़ किया। कहा कि जब वह संसदीय चुनाव लड़ने आए थे तब सभी विधानसभा के लोगों ने खड़े होकर मदद की थी। अब वह यहां आकर उनकी मदद करेंगे जो चुनाव लडेंगे। वहीं आजमगढ़ की जनता से अपील की कि भ्रम में ना पड़े। देश में जो भी अच्छा कार्य हो रहा है वह प्रधानमंत्री के नेतृत्व में हो रहा है। इसके अलावा आजमगढ़ की खराब सड़कों पर उन्होंने कहा कि यहां की जनता ने अखिलेश यादव को सांसद बनाया है लेकिन उन्होंने कभी यहां का हाल नहीं लिया। संसद में जाकर आजमगढ़ की बजाय आजम खान की बात करते हैं।