डॉ. जी.एन. बरनवाल ने कहा, चिकित्सक का प्रमुख धर्म सेवा भाव ही है, जिसे डॉ. डी.डी. सिंह बखूबी निर्वहन कर रहे हैं
रिपोर्ट, वरूण सिंह
आजमगढ़ । कहते हैं जज्बा हो तो कोई भी कार्य मुश्किल नहीं होता। इसी जज्बे को लिए अजमतगढ़ ब्लॉक क्षेत्र के छपरा सुल्तानपुर निवासी शिशु व बाल रोग विशेषज्ञ डॉ. डी.डी. सिंह विगत 11 वर्ष, 10 माह से अनवरत निःशुल्क परामर्श व दवाएं शिशुओं को देते आ रहे हैं। उसी क्रम में आज जनपद के ख्यातिलब्ध चर्म रोग विशेषज्ञ डॉ. जी.एन. बरनवाल भी शिशु व बाल रोग विशेषज्ञ डॉ. डी.डी. सिंह के गांव छपरा सुल्तानपुर आवास पर मरीजों का इलाज करने आए। क्षेत्र के साल्हेपुर, अजगरा, हरई इस्माइलपुर, खर्रा रास्तीपुर, इमिलिया, टनकपुरा, कठरा, कोठिया, छपरा, रसूलपुर आदि गाँवों के लोग इस शिविर से लाभान्वित हुए। शिविर के बारे में बताते हुए डॉ. जी.एन. बरनवाल ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र में उचित चिकित्सा की बहुत आवश्यकता है। इसी सोच के तहत आज यहाँ निःशुल्क चिकित्सा शिविर का आयोजन किया गया। आज के शिविर में दाद, खाज, खुजली सहित तमाम चर्म रोग के मरीज मिले, जिन्हें जाँच करने के उपरांत दवा भी दिया गया। डॉ. डी.डी. सिंह की सेवा भावना की सराहना करते हुए डॉ. बरनवाल ने कहा कि चिकित्सक का प्रमुख धर्म सेवा भाव ही है, जिसे डॉ. डी.डी. सिंह बखूबी निर्वहन कर रहे हैं। डॉक्टर. डी.डी. सिंह ने कहा कि माता-पिता की प्रेरणा से यह कार्य हमने शुरू किया है । आज भी बहुत लोग ऐसे हैं, जिनके पास धनाभाव के कारण बच्चे बीमार पड़ने पर समुचित इलाज नहीं करा पाते। आज अबोध बच्चों का इलाज कर हमें आत्म संतुष्टि मिल रही है। कहा कि यह कार्य अनवरत चलता रहेगा, जिससे कुछ जरूरतमंद बच्चों का इलाज तो हम कर सकेंगे। विदित हो कि यह क्षेत्र ग्रामीण इलाका है, जहाँ अभी भी बेहतर स्वास्थ्य सुविधाओं की आवश्यकता है। ऐसे में डॉ. सिंह द्वारा निःशुल्क इलाज किए जाने से शिशुओं को काफी राहत मिल रही है। इस अवसर पर शिविर के व्यवस्थापक धर्मदेव सिंह, गोपाल सिंह, अमर सिंह, अनिल त्रिपाठी, राजन उपाध्याय, बबलू त्रिपाठी, कुसुम सिंह, कंचन सिंह, शांति सिंह, अस्तुति सिंह, सत्य नारायण सिंह, अवध नारायण सिंह, बलवंत सिंह सहित कई गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।