बलिया।विकास खण्ड दुबहर के किसानों ने सोमवार को कलेक्ट्रेट परिसर में प्रदर्शन किया और अपनी मांगों से सम्बन्धित ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा गंगातीरी किसानों का कहना कि नगरपालिका परिषद, बलिया के सीवरेज का गन्दा पानी गंगा के छाड़न के सहारे बिचलाघाट बेदुआ, शनिचरी मन्दिर के किनारे-किनारे ओझवलिया गांव तक फैल जा रहा है। इसके जलजमाव के कारण विगत वर्ष हजारों एकड़ भूमि में सब्जी एवं रबी फसल की बुआई नहीं हुई। इस वर्ष भी फसलों की बुआई नहीं हो पा रही है। गंदा पानी के रास्ते होकर दियरा क्षेत्र में जाने आने की नाना प्रकार की बीमारियों एवं चर्म रोग हो रहे हैं। पशुओं में भी बीमारी फैल रही। है। किसान नेता विमल कुमार पाठक ने कहा कि कृषि कार्य बाधित होने से डेढ़ दर्जन गांवों के किसानों की पैदावार प्रभावित हुई है और आगे भी खेती प्रभावित होने की पुरी सम्भावना दिख रही है। किसान नेताओं एवं ग्राम प्रधानों ने तत्काल प्रभाव से नगरपालिका के पानी को नगरपालिका क्षेत्र तक सीमित रखने की मांग की है। ग्राम प्रधान भुवनेश्वर पासवान, छोटेलाल राम, मनीष उर्फ गुड्डू पाण्डेय, लक्की सिंह, धर्मेन्द्र यादव, बृजेश यादव, मनोज कुमार ठाकुर, विनोद पासवान, अम्बिका पाण्डेय, अखिलेश पाण्डेय, विनोद कुमार पाठक, दशरथ यादव, सुनील पाण्डेय, सूर्यबली यादव निर्मल कुमार पाण्डेय, शिव शम्भू पाठक, विष्णुदेव पाण्डेय, चन्द्र कुमार पाठक, संजय गिरि, हृदयानन्द्र पाठन आदि ने चेतावनी दी है कि नगरपालिका के पानी को नहीं रोका गया तो किसान आन्दोलन को तेज करने के लिए बाध्य होंगे।