राजेश सिंह
अतरौलिया स्थित रामनाथ धनंजय महिला पीजी कॉलेज के सभागार में भाजपा के प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन का आयोजन किया गया । जिसके मुख्य अतिथि  प्रदेश महामंत्री गोरखपुर क्षेत्र अनूप गुप्ता रहे, तथा विशिष्ट अतिथि भाजपा जिला अध्यक्ष ऋषि कांत राय ने पार्टी की नीतियों को बताया। कार्यक्रम की शुरुआत सर्वप्रथम श्यामा प्रसाद मुखर्जी तथा दीनदयाल उपाध्याय के चित्र पर दीप प्रज्वलित कर पुष्प अर्पित करते हुए किया गया, तो वहीं प्रबुद्ध वर्ग के लोगों द्वारा मुख्य अतिथि को माल्यार्पण कर सम्मानित भी किया। बता दे कि
मंगलवार को प्रबुद्ध वर्ग के सम्मेलन में प्रदेश महामंत्री अनूप गुप्ता ने कहा कि भाजपा ही ऐसी पार्टी है जो सभी धर्म वर्ग के लोगों को साथ लेकर चलती है। कहा कि पार्टी बिना भेदभाव के विकास कार्य कराती है। भारतीय जनता पार्टी उत्तर प्रदेश के सभी विधानसभाओं में प्रबुद्ध जन के बीच में जाकर के प्रबुद्ध जन वर्ग सम्मेलन कर रही है और प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन करके भारतीय जनता पार्टी अपनी सरकार की रिपोर्ट कार्ड तैयार कर रही है की भारतीय जनता पार्टी को प्रबुद्ध वर्ग ने समाज के प्रबुद्ध जनों ने क्या-क्या जिम्मेदारियां दी है ।उस पर भारतीय जनता पार्टी कैसे खरा उतर रही है क्या क्या काम कर रही है किन जनकल्याणकारी योजनाओं को लेकर हम लोग काम कर रहे हैं इसके बारे में चर्चा तथा वार्ता करने के लिए पुर प्रदेश में प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन कार्यक्रम किए जा रहे हैं। भाजपा का कार्यकर्ता राष्ट्रवादी विचारधारा का कार्यकर्ता होता है भाजपा कार्यकर्ताओं के लिए राष्ट्र सबसे पहले होता है, राष्ट्रवादी विचारधारा होने के नाते पार्टी के कार्यकर्ता आने वाले समय में नरेंद्र मोदी जी और पूज्य योगी आदित्यनाथ जी के नेतृत्व में भाजपा को और मजबूत करने के लिए पूरी तरह तैयार है ।ऋषि कांत राय ने कहा कि  हर हाल में बूथ स्तर तक पार्टी की नीतियों को जन-जन तक पहुंचाएं। समाज के प्रबुद्ध वर्ग के बीच जाकर एक माहौल तैयार करते हुए एक रिपोर्ट कार्ड तैयार करेंगे रिपोर्ट कार्ड तैयार करते हुए भारतीय जनता पार्टी द्वारा जन कल्याणकारी योजनाओं के बारे में लोगों को बताएं ।उन्होंने कहा कि यह अलग सम्मेलन है जिसमें प्रबुद्ध वर्ग से जुड़े शिक्षक अधिवक्ता जो पार्टी को एक अलग नई दिशा देने का काम करते हैं समाज में एक अच्छा संदेश पहुंचाते हैं। उनके साथ चर्चा की जाए क्योंकि वह समाज का एक बहुत अहम अंग हैं। कार्यक्रम के अंत में मुख्य अतिथि को रमाकांत मिश्रा तथा जितेंद्र सिंह गुड्डू द्वारा प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। सम्मेलन की अध्यक्षता  नागेश्वर प्रसाद त्रिपाठी व संचालन हरि सेवक पांडे ने किया। इस दौरान  संयोजक जीतेंद्र सिंह गुड्डू ,सहसंयोजक प्रभाकर तिवारी ,रमाकांत मिश्रा, सच्चिदानंद, सुनील पांडे ,चंद्र जीत तिवारी, विनोद राजभर, कन्हैया निषाद ,हरीश तिवारी, नीरज तिवारी ,संतोष यादव, हर्षित सिंह, धीरज मिश्रा आदि लोग मौजूद रहे।