बलिया। टीडी कालेज के पास मंगलवार की सुबह उस समय स्वास्थ्य व्यवस्था की पोल खुल गई, जब एक बुजुर्ग भुनेश्वर श्रीवास्तव रिटायर्ड कर्मचारी जगदीशपुर की तबियत अचानक बिगड गई और 108 एंबुलेंस को बार—बार कॉल करने के बावजूद एंबुलेंस मौके पर नहीं पहुंची। मजबूरन स्थानीय लोगों एवं परिजनों को किराए के संसाधानों से जैसे—तैसे मरीज को जिला अस्पताल ले जाना पड़ा। सवाल यह उठता है इतनी लचर व्यवस्था होने के बावजूद प्रदेश की योगी सरकार उत्तम स्वास्थ्य सुविधा का ढिंढोरा कैसे पीट रही है।
नगर निवासी एक 70 वर्षीय बुजुर्ग किसी काम से टीडी कालेज के पास आए हुए थे। अचानक बुजुर्ग अपने सीने में हाथ रखते हुए टीडी कालेज के पास ​रोड पर ही लेट गए। स्थानीय लोगों ने तुरंत 108 एंबुलेंस को कॉल किया। लेकिन अफसोस एक घंटे बाद भी एंबुलेंस नहीं पहुंची। मजबूरन परिजनों को किराए के वाहन पर मरीज को जिला अस्पताल ले जाना पड़ा।