लखनऊ। चुनावी साल में उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने तकरीबन ३.७३ लाख आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं व सहायिकाओं का मानदेय बढ़ा दिया है। आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को मानदेय के साथ अब बतौर प्रोत्साहन राशि प्रतिमाह १५०० रुपये, मिनी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को १२५० रुपये और आंगनबाड़ी सहायिकाओं को ७५० रुपये और मिलेंगे। इससे आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का जहां सात हजार रुपये तक मानदेय हो जाएगा, वहीं मिनी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का ५५०० और आंगनबाड़ी सहायिकाओं का मानदेय चार हजार रुपये हो जाएगा। बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग की प्रमुख सचिव वी हेकाली झिमोमी की ओर से जारी संबंधित आदेश के मुताबिक प्रोत्साहन राशि को परफार्मेंस से जोड़ते हुए नए सिरे से मानक तय किए गए हैं। लगभग ३.७३ लाख कार्यकर्ताओं व सहायिकाओं को इसका लाभ मिलेगा। बढ़ा हुआ मानदेय एक सितंबर से लागू होगा। गौरतलब है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पिछले दिनों अनुपूरक बजट में मानदेय बढ़ाने की घोषणा की थी। इसके लिए सरकार ने २६५.७०करोड़ रुपये की बजट में व्यवस्था कर रखी है। अनुपूरक पोषाहार में सभी पंजीकृत लाभार्थियों को प्रतिमाह पोषाहार के शत-प्रतिशत वितरण करने पर आंगनबाड़ी व मिनी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को ५००-५०० रुपये प्रतिमाह और सहायिकाओं को ४०० रुपये प्रतिमाह प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। साथ ही सभी पंजीकृत लाभार्थियों के लिए पोषण ट्रैकर के सभी क्षेत्रों का हर माह शत-प्रतिशत फीडिंग का काम पूरा करने पर आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को एक हजार रुपये, मिनी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को ७५० रुपये और सहायिकाओं को ३५० रुपये दिए जाएंगे। आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को परफार्मेंस के आधार पर प्रोत्साहन राशि देने का फैसला वर्ष २०१९ में किया गया था, लेकिन उस वक्त इसे लागू नहीं किया जा सका था। विभाग की मंशा है कि परफार्मेंस से प्रोत्साहन राशि जोड़ने से सभी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता अपने क्षेत्रों में बेहतर काम करेंगी।

किसे कितना मिलेगा मानदेय-

§ पदनाम (संख्या) : वर्तमान मानदेय : प्रोत्साहन राशि : कुल मानदेय

§ आंगनबाड़ी कार्यकर्ता (१.८९ लाख) : ५५०० रुपये : १५०० रुपये : ७००० रुपये

§ मिनी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता (१८ हजार) : ४२५० रुपये : १२५० रुपये : ५५०० रुपये

§ आंगनबाड़ी सहायिका (१.६६ लाख) : ३२५० रुपये : ७५० रुपये :४०००