पिन्टू सिंह

(बलिया) मूल्य समर्थन योजना के तहत राइस मिल संचालकों द्वारा खाद्य विभाग के क्रय किए गए धान के बदले एफसीआई में निर्धारित चावल का भंडारण नहीं किया गया। चावल जमा न करने पर राइस मिल संचालकों पर विभाग की नजर टेढ़ी हो गई है। अब इसकी भरपाई मिल संचालकों की चल व अचल संपत्ति की नीलामी कर की जाएगी।
उक्त जानकारी देते हुए संभागीय खाद्य नियंत्रक आजमगढ़ संभाग राम मूर्ति पांडेय ने बताया कि जिला खाद्य विपणन अधिकारी बलिया व आजमगढ़ की रिपोर्ट पर डीआईजी स्टाम्प एवं रजिस्ट्रेशन आजमगढ़ व बलिया तथा दोनों जिलों के सब रजिस्ट्रार स्टाम्प एवं रजिस्ट्रेशन को पत्र भेजकर कहा गया है कि किसी भी दशा में सम्बन्धित राइस मिल संचालक अपनी भूमि की बिक्री न कर सके।
👉इसमें आजमगढ़ के तीन तथा बलिया के 16 राइस मिल संचालकों का कोटा व क्षेत्रफल सहित भूमि शामिल है।👊
👉आजमगढ़ के में कीना राम राइस मिल ,अहीबरनपुर सदर, में कृष्णा खादी ग्रामोद्योग खरसहन खुर्द माहुल एवं में एमएस एग्रो इंडस्ट्रीज जिवली देवगाव के अलावा बलिया जिले के में केजी गंगा ग्रुप ग्राम धरहरा, में सर्व यादव राइस मिल धरहरा, में आरजेएस फूड एंड कम्पनी सखुवापुर डेहरी (लखनेश्वर), में गायत्री राइस मिल बासडीह, में बादामी राइस मिल सुखपुरा, (खरीद) बासडीह, में कृति एग्रो इंडस्ट्रीज असेगा (खरीद)बासडीह, में आराध्या ग्लेरियस फुड्स बहादुरपुर कारी सदर, में मां अम्बे राइस मिल इटही कथरिया मुबारकपुर (गजहडा), में जिज्ञासु वेलफेयर एंड राइस प्रोसेसिंग रामपुर असली, में तिरुपति बालाजी इंटर प्राईजेज राइस मिल ताखा (कोपाचिट गर्वी), में चंद्रावती राइस मिल ब्रम्हाइन बलिया, में युवराज इंटर प्राइजेज बहादुरपुर कारी (कोपाचिट शर्की), में जय श्री एग्रो इंडस्ट्रीज बहादुरपुर कारी, में अतुल शक्ति इंटर प्राइजेज जिगनी रतसड़(कोपाचिट शर्की), में राजदीप राइस मिल जीराबस्ती बलिया, में गोपाल राइस मिल ककरी (सिकंदरपुर गर्वी) शामिल है।