योगी सरकार ने साढ़े चार साल में लोक संकल्प पत्र के एक-एक वादे को किया पूरा: अनिल राजभर

-प्रभारी मंत्री ने बताई योगी सरकार की साढ़े चार साल की उपलब्धियां

कोविड संकट में महंगा अनाज खरीद कर गरीबों को दिया मुफ्त अनाज

बलिया: प्रभारी मंत्री अनिल राजभर ने रविवार को प्रदेश सरकार की साढ़े चार साल की उपलब्धियां साझा की। कलक्ट्रेट सभागार में आयोजित प्रेसवार्ता में उन्होंने कहा कि हमें गर्व है कि लोक संकल्प पत्र के माध्यम से जिन वादों को करके सत्ता में आए थे, हर एक वादे को योगी सरकार ने पूरा करके लोगों का विश्वास जीता है।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी जी के मार्गदर्शन में योगी सरकार ने जिस तरह साढ़े चार वर्ष के कार्यकाल में जनता की सेवा की है, वह दुनिया भर में उदाहरण बन गया है। विकास की लहर गांव से लेकर शहर तक है। काम दमदार योगी सरकार का नारा पूरे देश में गूंज रहा है। प्रभारी मंत्री ने कहा कि कोविड संकट में प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत सबसे पहले यूपी सरकार ने मुफ्त राशन दिया, जो दीपावली तक चलेगा। महंगा अनाज खरीद कर मुफ्त अनाज देने के साथ तमाम ऐसे काम किए, जो अन्य प्रदेश ही नहीं ​बल्कि दुनिया के लिए उदाहरण बन गया। प्रदेश सरकार ने साढ़े चार लाख लोगों को नौकरी दी है। पूरी पारदर्शिता के साथ ये नौकरियां दी गईं। उन्होंने कहा कि योगी सरकार ने आस्था को भी सम्मान दिया है। अयोध्या में राम मंदिर, काशी विश्वनाथ व मां विन्ध्यवासिनी कारीडोर, ब्रज क्षेत्र का विकास आदि सामर्थ्य नेतृत्व का प्रमाण है।

किसान हमारी प्राथमिकता में है और रहेगा

प्रभारी मंत्री श्री राजभर ने कहा कि किसान हमारी प्राथमिकता रहा है और आगे भी रहेगा। अपने वादे के मुताबि​क सरकार बनते ही 4़6 हजार किसानों के 35 हजार करोड़ से अधिक का कर्ज माफ किया। सबका साथ सबका विकास और सबका विश्वास को योगी सरकार ने चरितार्थ किया। गन्ना किसानों का बकाया भुगतान और गन्ना विक्री के एक हप्ते के अंदर उनका भुगतान करने की व्यवस्था कर उनका मनोबल बढ़ाया। उसका नतीजा है कि आज गन्ना उत्पादन में यूपी नम्बर वन पर है। बंद चीनी मिलें चालू कराई गई। प्रभारी मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री किसान फसल योजना के माध्यम से फसल नुकसान की दशा में किसानों के जख्म पर मरहम लगाने का काम किया। अब तक सरकार 2373 करोड़ की क्षतिपूर्ति देकर किसानों को राहत दी है। योगी सरकार ने जीता किसानों का दिल जीता है। उन्होंने कहा कि आज मंडियों और किसानों के बीच जो दलाली होती थी, मोदी जी के बनाए कानून से उस पर रोक लगी है। आज किसान चाहे जहां फसल बेच सकता है। प्रदेश में 27 मंडियों का आधुनिकीकरण के साथ छोटे बाजारों में भी मंडी बना रहे हैं, ताकि छोटे किसानों को भी प्लेटफार्म मिल सके। सरकार ने 125 ई—नाम मंडियों की स्थापना की है हमने। हम आने वाले दिनों में सबसे पहले यूपी में किसानों की आमदनी दोगुना करके दिखाएंगे।

दूर की बिजली की दुर्दशा

प्रभारी मंत्री अनिल राजभर ने कहा कि पहले बिजली की काफी दुर्दशा थी। कुछ जिलों में ही भरपूर बिजली मिलती थी, लेकिन आज पूरे प्रदेश के अंदर गांव को 18 घण्टा, ब्लाक और तहसील मुख्यालय को 20 और जिला मुख्यालय को 24 घण्टे बिजली मिल रही है।
—-
सड़क, परिवहन व बिजली के मामले में दिखा बेहतर परिणाम

प्रभारी मंत्री श्री राजभर ने कहा कि सड़क, परिवहन, बिजली व सुरक्षा के मामले में बेहतर परिणाम दिखा है। इसकी देन है कि उद्योगपति भी यूपी की तरफ आ​कर्षित हुए हैं। नतीजा, योगी सरकार से पहले पूरे देश में यूपी 14वें पर था, आज दूसरे स्थान पर है। यूपी में बुंदेलखंड, पूर्वांचल, गोरखपुर लिंक, बलिया लिंक और गंगा एक्सप्रेस—वे बन रहा है। पूर्वांचल एक्सप्रेस—वे के दोनों तरफ उद्योग का क्लस्टर बनाया जाएगा, ताकि नौजवानों को रोजगार के अवसर मिल सकें। प्रदेश में ऐसा माहौल होगा कि आने वाले समय में यहां के नौजवान अपना घर छोड़ कर दूसरे राज्यों में नहीं जाएंगे।

गरीबों को आवास देने में यूपी नम्बर वन

श्री राजभर ने कहा कि बड़ी संख्या में प्रदेश की आबादी बेघर थी, लेकिन हमारी सरकार ने प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री आवास योजना (ग्रामीण व शहरी) के माध्यम से 42 लाख गरीबों को पक्का छत देकर पहले नम्बर पर है। उन्होंने कहा कि कोरोनो के खिलाफ चल रही जंग में रिकार्ड वैक्सीन लगवाकर बड़ी उपलब्धि हासिल की। बताया कि विकसित देशों में भी मुफ्त वैक्सीन नहीं मिल रही है। लेकिन भारत जैसे बड़ी आबादी वाले देश में हर एक व्यक्ति को मुफ्त वैक्सीन देना कोई मामूली बात नहीं।

अपराध पर अंकुश में यूपी बना उदाहरण

प्रभारी मंत्री ने कहा कि जीरो टारलेंस की नीति के तहत अपराध पर अंकुश लगाने में यूपी पूरे देश में उदाहरण बना हुआ है। यहां माफियाओं की 18 सौ करोड़ की संपत्ति योगी सरकार ने जब्त किया है। अपराधी चाहे किसी भी जाति—धर्म का हो, पूरी निष्पक्षता से निरोधात्मक कार्रवाई हुई। थानों के मुकदमा दर्ज करने की छूट है।
प्रत्येक जिले में बना रहे मेडिकल कालेज

मंत्री ने कहा कि मेडिकल के क्षेत्र में बुनियादी सुविधाओं का अभाव था। योगी जी ने हर जिले में मेडिकल कालेज बनाने का निर्णय लिया है। अभी 59 जनपदों में कम से कम एक मेडिकल कालेज है। जन आरोग्य, आयुष्मान भारत जैसी योजनाओं का अनुसरण दुनिया में दो-तीन देशों ने किया। आयुष्मान योजना में छूट गए लोगों को मुख्यमंत्री आयुष्मान योजना के तहत हम लाभ देने जा रहे हैं।
—–
परिषदीय स्कूलों का किया कायाकल्प

प्रभारी मंत्री ने कहा कि कायाकल्प योजना ने स्कूली शिक्षा में आमूलचूल परिवर्तन किया। परिषदीय विद्यालयों पर लोगों का भरोसा बढ़ा है, जिसके कारण छात्रों की संख्या बढ़ रही है। गरीब के बच्चे भी टाइल्स और टेबल पर बैठ कर पढ़ रहे। बच्चों को सभी सुविधाएं दी जा रही हैं। स्मार्ट क्लास चल रहे।
——–
दिव्यांगता के प्रकार बढ़ाए

प्रभारी मंत्री श्री राजभर ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी जी ने दिव्यांगों की 21 प्रकार की परिभाषा बनाई। पहले यह सात प्रकार की ही थी। प्रदेश में आज करीब एक करोड़ दिव्यांग हैं। कॉकलियर इम्प्लांट के माध्यम से जन्म के कान से नहीं सुनाई देने की समस्या को दूर किया जा रहा है। इसमें साढ़े सात लाख का खर्च सरकार कर रही है। हर एक दिव्यांग को जरूरी उपकरण दिया जा रहा है। अस्सी फीसदी से अधिक दिव्यांग को मोटराइज्ड साइकिल देने जा रहे हैं। दिव्यांग को शिक्षा में चार से बढ़ाकर पांच प्रतिशत और सेवा में तीन से बढ़ाकर चार प्रतिशत आरक्षण दे रहे। आज होमगार्ड को 21 हजार तक प्रतिमाह मिल रहा है। कमजोर को मदद के लिए पेंशन की धनराशि बढ़ाई गई। गरीब को मदद हमारी प्राथमिकता है। योगी सरकार अंत्योदय के सिद्धांत पर काम कर रही।
—-
खिलाड़ियों का बढ़ाया मनोबल

प्रभारी मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खेलो इंडिया व फिट इंडिया के नारे का असर अब साफ देखने को मिल रहा है। केंद्र व प्रदेश सरकार ने खेल और खिलाड़ियों का भी उत्साह बढ़ाया हैं, जिसका नतीजा है कि ओलंपिक खेलों में देश और प्रदेश के खिलाड़ियों ने झंडे गाड़े। हमारी सरकार ने पदक जीतने और चौथे नम्बर के खिलाड़ियों को भी पुरस्कृत कर उनका मनोबल बढ़ाया। उन्होंने कहा कि मेरठ में देश की पहली खेल यूनिविर्सिटी बन रही है। हम खिलाड़ियों को सेवा के क्षेत्र में बड़े अवसर देने जा रहे हैं। हमारी सरकार महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए काम किया। मिशन शक्ति इसका उदाहरण है।

10 दिव्यांगों को दिए ट्राईसाइकिल

प्रभारी मंत्री अनिल राजभर ने सरकार के साढ़े चार वर्ष पूरा होने के अवसर पर कलेक्ट्रेट में 10 दिव्यांगों के बीच ट्राई साइकिल का वितरण किया। उन्होंने सभी दिव्यांग बंधुओं को माल्यार्पण कर और मिष्ठान देकर ट्राईसाइकिल के साथ उनको विदा किया। इस अवसर पर विधायक धनंजय कनौजिया, विधायक सुरेंद्र सिंह, विधायक संजय यादव, भाजपा जिलाध्यक्ष जयप्रकाश साहू, जिलाधिकारी अदिति सिंह, सीडीओ प्रवीण वर्मा, सिटी मजिस्ट्रेट प्रदीप कुमार, दिव्यांगजन सशक्तिकरण अधिकारी राजीव कुमार यादव सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।