यूूपी/बलिया। आदर्श नगर पंचायत मनियर द्वारा बनाए गए एकमात्र शवदाह गृह परशुराम मंदिर के पीछे विगत करीब 3 वर्ष पूर्व बाढ़ के पानी के वजह से टूट चुका है जिसके कारण लोगों को शव जलाने में काफी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है। कई बार नगर वासियों की शिकायत के बाद शवदाह गृह पर ताला लगा दिया गया है ।
कोरोना कॉल में अधिकांश लोगों का खुले आसमान के नीचे शव जलाना पड़ा था । शवदाह गृह का पुनर्निर्माण की मांग को लेकर सोमवार के दिन नौजवानों ने मनियर उत्तर टोला से शवदाह गृह का शव यात्रा सड़कों पर निकाला जो मनियर परशुराम स्थान ,पहाड़ी रोड होते हुए मनियर बस स्टैंड स्थित नगर पंचायत कार्यालय पर पहुंचा ।शव यात्रा में बाजा ,घंटा आदि बज रहा था।वहां शव को आग लगा दी गई ।शव यात्रा में राम नाम सत्य है, मनियर प्रशासन मुर्दाबाद, शवदाह गृह का निर्माण करो आदि नारे लगाए गए। टीडी कॉलेज के पूर्व अध्यक्ष राजेश सिंह प्रिंस ने कहा कि आदर्श नगर पंचायत शवदाह गृह के मामले में उदासीन है जो लोकतंत्र के लिए ठीक नहीं है। मदन सचेस ने कहा कि शवदाह गृह का निर्माण गुणवत्ता विहीन था जिसके कारण टूट गया ।घूरा पटेल ने कहा कि अगर शवदाह गृह नहीं बना तो मनियर की जनता आंदोलन के लिए बाध्य होगी ।अभिमन्यु कुमार बागी ने कहा कि हमें जन आंदोलन के लिए बाध्य न किया जाय। इस मौके पर संतोष पटेल (महात्मा जी), विनय सिंह, विशाल सिंह ,सीपू सिंह ,संदीप सिंह, रोशन सिंह, खरवार मनीष ,राहुल कुमार, मुकु सिंह, मृत्युंजय यादव, शक्ति सिंह, सहित इत्यादि नौजवान मौजूद रहे। सभासद प्रतिनिधि कृष्णाजी ने सभी नौजवानों को धन्यवाद ज्ञापित किया।