सुधीर अस्थाना

आजमगढ़ । मेहनगर तहसील के देवरिया ग्राम में तैनात लेखपाल द्वारा मछली पालन और बेचने का कार्य किया जा रहा है। उसके अवैधानिक कार्यो से क्षुब्ध होकर देवरिया के ग्रामीणों और प्रधान संघ ने उपजिलाधिकारी कार्यालय के समक्ष धरना दिया, और तहसीलदार को ज्ञापन सौंपा। ग्रामीणों ने लेखपाल पर आरोप लगाते हुए बताया कि लेखपाल पंकज एक राजनैतिक और जमींदार व्यक्ति की तरह से कार्य करता है । देवरिया गांव का एक तालाब  स०315 रकबा 80 एकड़  जिसकी वर्ष  2012 से नीलामी नहीं हुई है। इसके बावजूद इस पोखरी से लगभग 50 कुण्टल मछली निकाल कर बेची जा रही है। उक्त लेखपाल पोखरी के पूर्व पट्टेदार से मिलकर अधिया पर मछली पालन और बेचने  मछली बेचने का कार्य करता है। पोखरी स०402/2 पर भी बन्धा डलवाकर मछली पालन किया जा रहा है। ग्रामीणों ने बताया कि लेखपाल द्वारा किए जा रहे अवैधानिक कार्य से राजस्व की लाखों रूपये की क्षति हो रही है। दूसरी ओर अन्य ग्रामीण मत्स्य पालन से वंचित हो रहे हैं।इस अवसर पर अदालत सरोज, वीरेंद्र राम, चरण सरोज, पंकज राजभर, मुसाफिर राम, धर्मेंद्र राम, सभाजीत राम, राम अवध राम, ओमप्रकाश ,कन्हैया राजभर ,गोपाल यादव ,विलास यादव, सुभाष यादव, साधु यादव सहित ग्राम प्रधान संघ के अध्यक्ष एहतराम खान सहित सैकड़ों ग्रामीणों ने  तहसीलदार रानी गरिमा जायसवाल महोदया को ज्ञापन सौंपा और लेखपाल के विरूद्ध आवाज बुलंद की।