(बलिया ) यूपी के गाजीपुर जनपद के मरदह थाना क्षेत्र अन्तर्गत एक स्कूल के कमरे में वाहन चालक द्वारा एक छात्रा के साथ दुष्कर्म का मानला सामने आने पर बीएसए ने एकतरफ तत्काल प्रधानाध्यापिका को सस्पेंड कर दिया है, वहीं खंड शिक्षा अधिकारी को जिला मुख्यालय से सम्बद्घ करने के लिए अनुमोदन भी किया है। उधर, पुलिस ने आरोपी चालक को समय गवाएं तत्काल गिरफ्तार कर न्यायालय भेज दिया जहां से उसे जेल भेज दिया गया। 

आरोपी खण्ड शिक्षा अधिकारी का गाडी चालक बताया जा रहा है।
बताते चलें कि एक गांव मे कक्षा सात की छात्रा स्कूल में पढ़ने गई थी। छुट्टी के बाद वह घर जा रही थी, तभी विद्यालय के पास ही वाहन चालक ने उसे उसे अपने झांसे में ले लिया।
आरोप है कि मोबाइल तथा पैसा देने के नाम पर छात्रा को बहला-फुसलाकर स्कूल के एक कमरे में ले जाकर दुष्कर्म किया। घर पहुंची पीड़िता ने परिजनों को आपबीती सुनाई तो परिजनों के होश उड़ गए। पीड़िता के पिता ने आरोपी के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज कराया। पुलिस ने घटना के 24 घंटे बाद दुष्कर्म आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।
उधर, जिला बेसिक अधिकारी हेमंत राव ने स्कूल की प्रधानाध्यापिका सत्यवती मौर्या को निलंबित कर शिक्षा क्षेत्र बिरनो के एक स्कूल से संबंद्ध कर दिया है। यही नहीं, बीएसए ने खंड शिक्षा अधिकारी डा. कल्पना को मरदह शिक्षा क्षेत्र से जनपद मुख्यालय संबद्ध करने के लिए जिलाधिकारी को अनुमोदन पत्र भेजा है। साथही खंड शिक्षा अधिकारी एवं विद्यालय के सभी कार्मिकों की लापरवाही की जांच के लिए त्रिस्तरीय समिति का गठन कर रिपोर्ट उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है।