आपसी सद्भाव व शांति पूर्वक आयोजित करे पर्व

पिन्टू सिंह

(बलिया) यूपी के बलिया जिले के रसड़ा कोतवाली परिसर में रविवार को क्षेत्राधिकारी शिवनारायण वैश की अध्यक्षता में शांति समिति की बैठक आयोजित की गई। जिसको संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि आने वाले दुर्जा पूजा व वरावफात का पर्व शांतिपूर्वक व सद्भाव के साथ मनायें ताकि पूरे क्षेत्र में शांति बनी रहे।
उन्होंने कहा कि वरावफात व दुर्गा पूजा के जुलूसों पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध रहेगा। दुर्गा प्रतिमाएं भीड़-भाड़ वाले स्थानों व राजमार्ग पर स्थापित न करें।
प्रभारी निरीक्षक शिवशंकर सिंह ने कहा कि त्यौहार, धार्मिक आस्थाओ व मेल-मिलाप व सद्भाव कायम करने का जरिया है। इस पर हमें एकता के सूत्र में आ जाना चाहिए तभी त्योहार का वास्तविक उद्देश्य सफल होगा। रामलीला कमेटी के पदाधिकारी त्रिलोकीनाथ सोनी ने बताया कि 15 अक्टूबर को विजयादशमी के दिन प्रतीकात्मक रूप में रावण का पुतला फूंका जाएगा ।
वहीं बरावफात कमेटी के पदाधिकारी परवेज आलम ने कहा कि बरावफात का कार्यक्रम जलसा 18 अक्टूबर को होगा और मोहम्मद पैगंबर साहब का जन्म दिवस बारावफात 19 तारीख को अपने घरों में ही मनाया जाएगा।
शिया नेता असद अली ने कर्बला में पानी जमा होने का मामला उठाया जिसे पर क्षेत्राधिकारी ने नपा को आवश्यक निर्देश दिये। इस मौके पर सपा नेता बदरूदुजा उर्फ बब्लू अंसारी, समाजसेवी राजेश जायसवाल, अशद अली, रामचंद्र, नगर पालिका लिपिक प्रदीप गुप्ता, आदि सम्मानित लोग मौजूद रहे।