विनय शंकर राय
लालगंज (आजमगढ़ ) स्थानीय नगर में बृहस्पतिवार कि शाम को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ जिला लालगंज के खण्ड लालगंज का पथ संचलन कार्यक्रम सह प्रांत प्रचारक अजय के नेतृत्व में बाजे गाजे के साथ निकाला गया । राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के स्वयंसेवक सरस्वती शिशु मंदिर हनुमानगढ़ी लालगंज से पथ संचलन करते पूरे नगर का भ्रमण करने के पश्चात पुनः हनुमानगढ़ी पर वापस आये।। संघ की दृष्टि से निर्मित लालगंज जिले में कुल सात खंड एवं तीन नगर संगठन है। पूरे जिले में पथ संचलन कार्यक्रम खंड और नगर में होने हैं । लालगंज नगर एवं लालगंज खंड का पथ संचलन बाजे गाजे तथा सुंदर झांकी के साथ काफी उत्साह के साथ निकला। संघ के गणवेश में दंड धारी स्वयं सेवक कदम से कदम मिलाकर चलते हुए सुंदर अनुशासन का उदाहरण प्रस्तुत कर रहे थे। जगह-जगह पुष्प वर्षा कर पथ संचलन में चल रहे संघ के स्वयं सेवकों का स्वागत भी हो रहा था। पथ संचलन के पश्चात सरस्वती शिशु मंदिर हनुमानगढ़ी लालगंज पर सह प्रांत प्रचारक अजय जी ने शस्त्र पूजन एवं विजयादशमी उत्सव पर अपना बौद्धिक दिया। अजय जी ने कहा कि विजयादशमी उत्सव अन्याय पर न्याय की विजय का प्रतीक है। असत्य पर सत्य की विजय का प्रतीक है । भगवान श्री राम लंका विजय कर अयोध्या वापस आए तो अयोध्या वासी विजयादशमी के दिन उनका भव्य स्वागत किए थे। तभी से यह उत्सव विजयदशमी के रूप में मनाया जाता है। आपने राम की शक्ति पूजा की भी चर्चा की। तथा यह बताया कि रावण जो अधर्म के मार्ग पर चल रहा था, मां भगवती युद़् में रावण की रक्षा कर रही थी। मां भगवती को प्रसन्न करने के लिए भगवान राम को शक्ति पूजा करनी पड़ी। समाज हमेशा पुरातनता का परित्याग कर नवीनता को धारण करता रहा है। पुरातन परम्पराओं का परित्याग कर ही मानव समाज विकास के पथ पर आगे बढ़ा है। इस अवसर पर विभाग प्रचारक सुशील जी, जिला प्रचारक अवनीश जी, पूर्व जिला प्रचारक सुग्रीव जी, विभाग कार्यवाह गोविंद जी, जिला संघचालक राम बिहारी गिरि, जिला व्यवस्था प्रमुख उमाशंकर मिश्र, जिला कार्यवाह उमेश सिंह, नगर प्रचारक मनीष जी, अभय सिंह, नगर संघचालक डॉ ज्वाला प्रसाद, जिलाध्यक्ष भाजपा ऋषि कांत राय, मंजू सरोज, ओमप्रकाश सिंह, विजय सोनकर, संजय जायसवाल रजनीश, नंदन, गौरव रघुवंशी, आदि लोग विशेष रूप से उपस्थित रहे थे।