वरूण सिंह
लखनऊ । कभी योगी सरकार में सहयोगी रहे, सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने शुक्रवार को एक बार फिर से भाजपा के साथ आने के संकेत दिया है, शुक्रवार को ओम प्रकाश राजभर ने अपनी कुछ शर्तें रखते हुए, कहा कि, अगर भारतीय जनता पार्टी उनकी मांगों को मान लेती है तो वो भाजपा के साथ गठबंधन कर सकते हैं, प्रेस कॉन्फस के दौरान ओम प्रकाश राजभर ने कहा कि, हमारी शर्तों को जो दल मान लेगा, उसके साथ 27 अक्टूबर को मऊ में गठबंधन का ऐलान किया जाएगा, उन्होंने अपनी शर्तों को लेकर कहा कि, भागीदारी संकल्प मोर्चा को जिस उद्देश्य से हमने बनाया, उसमें सामाजिक न्याय समिति की रिपोर्ट को लागू करना शामिल है, कहा समान रूप से स्नातकोत्तर तक मुफ्त शिक्षा मिले, घरेलू बिजली बिल माफ हो, शराबबंदी, पुलिस की बॉर्डर सीमा समाप्त की जाये, 8 घंटे काम करने की सीमा के साथ पुलिस बल को साप्ताहिक छुट्टी मिले, पुरानी पेशन बहाल हो, होमगार्ड, पीआरडी और ग्रामीण चौकीदार को पुलिस के बराबर सुविधा मिले, ओमप्रकाश राजभर ने कहा कि, सामाजिक न्याय समिति की रिपोर्ट को लेकर हम भाजपा के पास गए थे, लेकिन भाजपा ने हमारी बात नहीं मानी, अब भाजपा अगर इन बातों को मान ले, तो हम उसके भी साथ गठबंधन कर सकते हैं, मई 2019 में ओम प्रकाश राजभर ने भाजपा से अलग होने के बाद AIMIM के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी सहित कई छोटे दलों के साथ मिलकर जनाधिकार संकल्प मोर्चे का गठन किया, वहीं भाजपा के साथ गठबंधन पर अपनी शर्तें रखने से पहले ओम प्रकाश राजभर पिछले दिनों लखनऊ में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह से मुलाकात की थी ।