राजेश सिंह
आजमगढ़ । अतरौलिया में पूर्णमासी के दिन लगने वाले तीन दिवसीय मेला व उसी दिन पड़ रहे बारावफात त्यौहार को लेकर थाना परिसर में रविवार सायं पीस कमेटी की बैठक का आयोजन तहसीलदार शक्ति प्रताप सिंह व क्षेत्राधिकारी गोपाल स्वरूप वाजपेई के नेतृत्व में किया गया । दोनों त्यौहार एक ही दिन पड़ने की वजह से तहसीलदार ने एक दिन पहले ही बारावफात के त्यौहार को सकुशल संपन्न कराने के लिए मुस्लिम समुदाय के लोगों को राजी कर लिया, वही पूर्णमासी के दिन नगर पंचायत अतरौलिया मेले को लेकर दुर्गा पूजा समिति तथा संभ्रांत व्यक्तियों के साथ बैठक कर आवश्यक दिशा निर्देश दिए, जिसमें कोविड-19 नियमो का पूर्णतया पालन करने का आदेश दिया गया । मूर्ति विसर्जन को लेकर दोपहर का समय निर्धारित किया गया। दुर्गा पूजा समिति तथा संभ्रांत लोगों से मेले व वरावफ़ात में आ रही समस्याओं के बारे में उनकी राय भी लिया गया। बिजली के तार को लेकर आ रही समस्या को लेकर तहसीलदार  द्वारा संबंधित जेई अवधेश पाल को तत्काल बिजली के तार सही कराने के निर्देश दिए गए। मूर्ति विसर्जन के दौरान शराब का सेवन पूर्णतया प्रतिबंधित रहेगा, तथा क्षेत्राधिकारी द्वारा विसर्जन के दौरान वीडियोग्राफी कराए जाने की बात कही गई, मूर्ति विसर्जन के दौरान उपद्रवियों पर पुलिस की पैनी नजर रहेगी, वहीं मेले में शांति व्यवस्था हेतु सभी मूर्तियों के आसपास पर्याप्त पुलिस बल तैनात रहेंगे, सुरक्षा के दृष्टिकोण से अगल बगल के थानों की पुलिस को भी शांति व्यवस्था हेतु बुलाया जाएगा। इस मौके पर प्रभारी निरीक्षक राजेश कुमार सिंह, एसएसआई अयोध्या तिवारी, एसआई प्रदीप कुमार सिंह, सुल्तान सिंह, रविंद्र यादव, अशफाक सिद्दीकी, रामनरेश, राजदीप सिंह, अमित, उत्कर्ष राज चौरसिया, सुमित कुमार चौरसिया, जगमोहन सोनी, सद्दाम हुसैन, जियताब आलम, मंगल सोनकर सहित आदि लोग उपस्थित रहे।