पिन्टू सिंह
(बलिया) उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ ब्लॉक इकाई रसड़ा के उपाध्यक्ष व उच्च प्राथमिक विद्यालय अमहर के प्रभारी प्रधानाध्यापक नमो नारायण सिंह के निलंबन को लेकर जिलाध्यक्ष जितेन्द्र सिंह ने प्रताड़ना का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा है कि यह कारवाई सरासर गलत है। इसे उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ कभी बर्दाश्त नहीं करेगा।
यदि कल तक नमो नारायण सिंह के विरुद्ध की गई कारवाई वापस नहीं की जाती है तो प्राथमिक शिक्षक संघ गुरुवार 21 अक्टूबर को जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी बलिया का घेराव करेगा।
जिलाध्यक्ष श्री सिंह ने कहा कि बिना संसाधन (कम्प्यूटर/लैपटॉप/मोबाइल) दिए और शिक्षकों को प्रशिक्षित किए बगैर उनसे डीबीटी फीडिंग का दबाव बनाना कहीं से उचित नहीं है। शिक्षकों पर उत्पीड़न की कारवाई को शिक्षक संघ बर्दाश्त नहीं करेगा। गुरुवार को घेराव के साथ ही चरणबद्ध आन्दोलन किया जायेगा।
उन्होंने बेसिक शिक्षा परिषद संयुक्त मोर्चा के घटक संगठनों का भी आह्वान किया है कि कल के प्रस्तावित धरना में शामिल हो।
👉साथही दैनिक भास्कर न्यूज डाटकाम को पक्ष जानकारी किया तो नमोनारायण सिंह ने दूरभाष पर बतलाया कि खण्ड शिक्षा अधिकारी द्वारा मिटिंग मे अमर्यादित भाषा का प्रयोग किया गया जिसमें मेरे द्वारा यही कहा गया कि आपको जो करना है कर लीजिएगा।इसी बात को बढाचढा कर बेसिक शिक्षा अधिकारी शिव नारायण सिंह के यहा कहकर मेरे प्रति कार्यवाही किया गया है।
हालांकि उन्होंने कहा कि खण्ड शिक्षा अधिकारी हिमांशु उम्र में अभी छोटे है, उनके अंदर अनुभव की काफी कमी है।
मगर इस तरह भाषा शैली का प्रयोग कतई बर्दाश्त नहीं किया जायेगा ।
👉हालांकि पूरे मामले पर बेसिक का भी पक्ष जानकारी करना चाहा मगर छुट्टी के चलते बात नहीं हो सकीं।
अब देखना होगा कि कल आर या पार मे क्या होता है।