विनय शंकर राय
लालगंज (आजमगढ़ ) स्थानीय नगर का दो दिवसीय मेला छिट-पुट घटनाओं को छोड़कर सकुशल सम्पन्न हो गया । गाजे-बाजे के साथ माँ दुर्गा कि प्रतिमाओं को शुक्रवार कि देर रात्रि तक विसर्जन हेतु ले जाया गया । विसर्जन जुलूस में शामिल युवक एक बैन को हटाने को ले कर भीड़ गए जिससे अफरा-तफरी मच गयी । पुलिस मौके पर पहुंच कर लोगों को हटा-बढ़ा दिया । शरद पूर्णिमा के अवसर पर लगने वाले दो दिवसीय मेले में पहले दिन कि अपेक्षा दूसरे दिन बृहस्पतिवार कि रात्रि में भीड़ ज्यादा थी । देर रात्रि तहसील परिसर से राम-लक्ष्मण-सीता सहित हनुमान को ले कर रथ आकर्षक झांकियों के साथ निकला जो बाजार के उत्तरी क्षोर पर स्थित ठाकुरद्वारा मन्दिर पर पहुंचा जहां पर भरत-शत्रुघन सहित  अयोध्यावासियों ने श्री राम का जय श्री राम के नारे से  स्वागत किया और भाइयो का मिलन हुआ । सहारा क्लब के तत्वाधान में डांस कम्पटीशन का आयोजन किया गया था जिसका  लोग आनंंद उठा रहे थे ।मेले में शान्ति व्यवस्था बनाए रखने के लिए नवीन प्रसाद उपजिलाधिकारी, मनोज कुमार रघुवंशी क्षेत्राधिकारी ,उमाशंकर त्रिपाठी तहसीलदार, पंकज कुमार शाही नायब तहसीलदार, मंजय सिंह प्रभारी निरीक्षक, अनिल सिंह चौकी प्रभारी अन्य पुलिस कर्मियो के साथ बराबर चक्रमण कर रहे थे । शुक्रवार को देर शाम  माँ दुर्गा कि मूर्तियो को वाहनों पर भव्य ढ़ग से सजा कर गाजा-बाजा व डी जे कि धुन पर थिरकते हुए माँ का जयकारा लगाते हुए नगर का भ्रमण करा कर ले जाया जा रहा था कि तहसील के पास शब्बीर अहमद के मकान के सामने खड़ी बैन को हटाने के लिए जुलूस में शामिल युवकों व परिजनों में कहा-सुनी फिर मार-पीट हो गयी बैन का शीशा तोड़ दिया गया । पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों ने तत्काल मौके पर पहुंच कर स्थिति को नियंत्रित कर सभी मूर्तियों को मिर्जापुर गांव में सड़क के किनारे पोखरे में विसर्जन हेतु ले जाया गया, यह क्रम देर रात्रि तक चलता रहा । सहारा क्लब के तत्वाधान में कलाकारों द्वारा शिव तांडव, राजा हरिचन्द, सुदामा-कृष्ण मिलन कि झांकी प्रस्तुत कि गयी जो दर्शकों का मन मोह लिया। विसर्जन के समय डी जे कि धमक से पूरा नगर दहल उठा ।विसर्जन जुलूस में वाहनों पर लगे डी जे बॉक्स कही विद्युत तार से छू न जाय सावधान वश पूरे नगर कि विद्युत आपूर्ति ठप्प कर दी गयी थी ।