राजेश सिंह

आजमगढ़ अतरौलिया में शरद पूर्णिमा को लगने वाले तीन दिवसीय मेला प्रशासनिक देखरेख व निगरानी में देर रात तक चलता रहा। आसपास के क्षेत्रों से आए हुए लोगों ने मेले में जमकर खरीदारी की तथा मेले का लुफ्त उठाया। मेले में 2 दर्जन से अधिक मूर्तियां स्थापित की गई थी । जिसमें शंकर जी त्रिमुहानी स्थित झूला पर बैठी मां दुर्गा की प्रतिमा लोगों के आकर्षण का केंद्र रही, तो वही जायसवाल मोहल्ले में ऊंचे व भव्य पांडाल में विराजमान दुर्गा की प्रतिमा, तथा बरनवाल चौक पर स्थापित की गई राजस्थानी मूर्ति का मेलार्थियों ने दर्शन कर पुण्य के भागी बने। जायसवाल त्रिमुहानी तथा गोला क्षेत्र में भव्य झांकियों ने मेलार्थियों का मन मोह लिया ।मेले में नायब तहसीलदार, क्षेत्राधिकारी, प्रभारी निरीक्षक ,अधिशासी अधिकारी लगातार चक्रमण करते रहे, तथा कहीं भी कोई अराजकता ना होने पाए जिसपर लगातार नजर बनाए हुए थे। आजमगढ़ जनपद का अतरौलिया नगर पंचायत मेला जिले का आखरी सबसे बड़ा मेला पड़ता है, यह ऐतिहासिक मेला शरद पूर्णिमा से शुरू होकर 3 दिनों तक चलता है, जिसमें आसपास के क्षेत्रों से काफी संख्या में लोग पहुंचते हैं । मेले में क्षेत्रीय नेताओं ने भी पहुंचकर मेले का लुफ्त उठाया । बसपा के प्रभारी प्रत्याशी डॉक्टर सरोज पांडेय, पूर्व चेयरमैन रामचंद्र जायसवाल, सपा के ब्लाक प्रमुख चंद्र शेखर यादव, कोयलसा से भाजपा के ब्लाक प्रमुख संतोष यादव, भाजपा नेता रमाकांत मिश्रा, कांग्रेस के यदुनाथ सहित अन्य दलों के राजनैतिक लोगों ने मेले के दौरान माँ दुर्गा के दर्शन किये। मेले को शांतिपूर्वक संपन्न कराने के लिए प्रभारी निरीक्षक राजेश कुमार सिंह द्वारा स्थानीय थाने के अलावा अन्य थानों की लगभग 65 की संख्या में सब इंस्पेक्टर व पुलिसकर्मी बुलाए गए थे, जो मेले में प्रत्येक नाके पर लगाए गए थे, तो वही सभी छोटे-बड़े वाहनों को मेला क्षेत्र में जाने पर रोक लगाई गई थी ।