राजेश सिंह
अतरौलिया, स्थानीय विकास खंड के प्रांगण में राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन योजना अतर्गत चावल कलस्टर प्रदर्शन प्रक्षेत्र दिवस तथा कृषि एवं समबर्गीय विभागों द्वारा खंड विकास स्तरीय प्रशिक्षण शिविर का आयोजन तथा कृषि विभाग द्वारा पराली प्रबंधन विषयक गोष्ठी का आयोजन खंड विकास अधिकारी अतरौलिया रामविलास राम की अध्यक्षता में संपन्न हुआ। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि ब्लाक प्रमुख चंद्रशेखर यादव एवं विशिष्ट अतिथि मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी आजमगढ़ रहे । कार्यक्रम का संचालन सहायक विकास अधिकारी कृषि आजमगढ़ शंभूनाथ ने किया। कार्यक्रम में बोलते हुए मुख्य अतिथि ने कहा कि आज लोग पशुपालन से विमुख हो रहे हैं जिसका परिणाम बहुत ही भयावह होता जा रहा है, पशुधन भी बड़ा धन है । खेती में लोग काम कर नहीं रहे हैं, जिसस खेती में घाटा होता जा रहा है। उन्होंने उपस्थित अधिकारियों से कहा कि मौजूद किसानों को कृषि विभाग द्वारा संचालित योजनाओं के विषय में बताएं एवं सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं का किसानों को लाभ दें । विशिष्ट अतिथि ने कहा कि कृषि विभाग द्वारा बहुत सारी योजनाएं संचालित की जा रही हैं जिसमें 50 से 80% तक अनुदान किसानों के खातों में दिया जा रहा है धन विषय पर उन्होंने कहा कि कंबाइन मशीन के मालिक मशीन के पीछे सुपर एस एम एस जरूर लगवा ले उन्होंने किसानों से अपील किया कि किसान पराली जलाना बल्कि उन्हें छोटे-छोटे टुकड़ों में काटकर जैविक खाद बनाएं जिससे जमीन की उर्वरा शक्ति भी पड़ेगी एवं फसल का उत्पादन बढ़ेगा। गोष्ठी को आए हुए वैज्ञानिकों ने भी संबोधित किया इस दौरान बड़ी संख्या में उपस्थित कंबाइन मालिकों के साथ-साथ लगभग 900 किसानों को पराली के लिए उपयोग में लाने वाली पूसा डी कंपोजर दवा का निशुल्क वितरण भी किया गया ।इस मौके पर वैज्ञानिक डॉक्टर रसूल अहमद ,डॉक्टर हरिनाथ यादव ,डॉ वीरेंद्र सिंह ,पशु चिकित्सक डॉ दिलीप कुमार, सहायक विकास अधिकारी अली अहमद अंसारी, जिला पंचायत सदस्य शीतला प्रसाद निषाद, हरिश्चंद्र यादव ,रमेश यादव डॉक्टर शिव शंकर यादव ,कमलेश वर्मा, सहित बड़ी संख्या में किसान भी मौजूद रहे।