वरूण सिंह
लखनऊ के मड़ियांव इलाके में यूपी एसटीएफ की टीम से बुधवार की रात दो बदमाशों से मुठभेड़ हो गई, कई राउंड फायरिंग में बदमाश अली शेर और उसका साथी कामरान को यूपी एसटीएफ ने मार गिराया गया, बदमाश अलीशेर झारखंड में वरिष्ठ भाजपा नेता जीतराम मुंडा की हत्या केस में फरार चल रहा था, इस पर एक लाख का इनाम रखा गया था, वही उसके साथी कामरान पर 25000 का इनाम घोषित था, आईजी एसटीएफ अमिताभ यस के मुताबिक बदमाशों के पास से एक मोटरसाइकिल, कार्बाइन, दो पिस्टल व भारी मात्रा में कारतूस बरामद किए हैं, आरोपी अलीशेर आजमगढ़ के देवगांव थाना क्षेत्र का मूल निवासी है, इसके ऊपर गंभीर धाराओं में लगभग डेढ़ दर्जन मुकदमे दर्ज हैं, 22 सितंबर को भाजपा के अनुसूचित जनजाति मोर्चा के जिलाध्यक्ष जीतराम मुंडा की 22 सितंबर दिन बुधवार को झारखंड के ओरमांझी में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी, नक्सलियों को शक था कि वह उनकी जानकारी पुलिस को देते हैं, उनके ऊपर 4 साल पहले ओरमांझी में फायरिंग हुई थी, जिसमें वह बाल-बाल बच गए थे, उनकी हत्या के मुख्य आरोपी एक लाख के इनामी मनोज मुंडा ने 7 अक्टूबर को रांची कोर्ट में सरेंडर किया था, पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया था इसी मामले में अलीशेर भी फरार चल था ।