रिपोर्ट, दैनिक भास्कर, ब्यूरो चीफ वरुण सिंह

 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आजमगढ़ का नाम बदलने का दिया संकेत, कहा राज्य विश्वविद्यालय आजमगढ़ की पहचान के संकट को खत्म करेगा, तो वहीं आजमगढ़ को आर्यमगढ़ बनाएगा

आजमगढ़ । मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने शनिवार को आजम बांध यशपाल पुर में राज्य विश्वविद्यालय का शिलान्यास किया। जनसभा को संबोधित करते हुए गृहमंत्री अमित शाह ने समाजवादी पार्टी पर निशाना साधा । उन्होंने कहा कि सपा शासनकाल में आजमगढ़ की पहचान कट्टरता के तौर पर की जाती थी, अब, जिले का नाम शिक्षा के लिए जाना जाएगा, उन्होंने सीएम योगी को सुझाव दिया कि निर्माणाधीन यूनिवर्सिटी का नाम महाराजा सुहेलदेव पर रखा जाए, जिसको मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने तुरंत महाराजा सुहेलदेव के नाम का एलान भी कर दिया । गृह मंत्री योगी आदित्यनाथ की कानून व्यवस्था के मुद्दे पर तारीफ की, गृहमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश को माफिया राज से मुक्ति दिलाने का काम प्रदेश की सरकार ने किया है, आजमगढ़ इसका उदाहरण है, कैराना से लोग पलायन कर रहे थे, बेटियों की उच्च शिक्षा नहीं हो पाती थी,.आज मैं गर्व से कह सकता हूं कि माफिया उत्तर प्रदेश छोड़कर चले गए हैं । इस दौरान आयोजित जनसभा को मुख्यमंत्री ने आजमगढ़ का नाम बदलने का संकेत देते हुए कहा कि राज्य विश्वविद्यालय आजमगढ़ की पहचान के संकट को खत्म करेगा, तो वहीं आजमगढ़ को आर्यमगढ़ बनाएगा। 2014 के पूर्व आजमगढ़ के लोगों को कहीं बाहर कमरा नहीं मिलता था। इसके पीछे आजमगढ़ का होना प्रमुख कारण था, लेकिन अब ऐसा नहीं है। अब आजमगढ़ को आतंक का गढ़ नहीं कहा जाता है। उन्होंने कहा कि एक वक्त था जब आजमगढ़ की पहचान आतंक के गढ़ के रुप में होती थी। पूर्व की सरकारों ने जातिवाद, परिवारवाद व तुष्टिकरण वाद को बढ़ावा देने का काम किया लेकिन हमारी सरकार ने जनता के हित की योजनाओं को आगे बढ़ाने का काम किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में उनकी योजनाओं का प्रदेश में सफल संचालन हुआ। गरीबों को 2020 में जहां पांच माह तो 2021 में आठ माह मुफ्त राशन बांटा गया। पूर्व की सरकार इसी राशन को कालाबाजारी कर बांग्लादेश भेज देती थी। हमने साढ़े चार लाख को सरकारी तो तीन लाख को संविदा नौकरी दी। नौकरी पाने वाले ये नवजवान मेरे, मोदी या शाह के परिवार के नहीं है। उन्होंने कहा कि राज्य विश्वविद्यालय पूरी तरह से आजमगढ़ की पहचान के संकट को खत्म कर देगी। और यहां अब आतंकवाद के बजाय सरस्वती मंदिर बनेगा, आजमगढ़ के विकास को लेकर सरकार ने एक्सप्रेस-वे बनाया। यह एक्सप्रेस आजमगढ़ के विकास में रीढ़ बनेगा। एयरपोर्ट का काम भी 95 प्रतिशत पूरा हो गया है, जल्द ही आजमगढ़ एयरपोर्ट से उड़ान भी शुरू हो जाएगी । मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जनसभा के दौरान सपा मखिया और आजमगढ़ सांसद अखिलेश यादव पर तंज कसते हुए कहा कि कोरोना काल में आप के सांसद आप के बीच नहीं आए, लेकिन चुनाव का वक्त आते ही नजर आने लगे हैं। आजमगढ़ हमारा कार्य क्षेत्र है। 2007 में यहीं मुझ पर हमला हुआ था। शिब्ली पीजी कॉलेज में अजीत राय की हत्या इसलिए कर दी गई कि उसने गणतंत्र दिवस पर वंदेमातरम का गान करने की मांग की थी। वह विद्यार्थी परिषद का सदस्य था। यह सब पूर्ववर्ती सरकार में हुआ है लेकिन अब ऐसा नहीं होगा ।