रिपोर्ट, जेके शुक्ला
आज़मगढ । जिले के कंधरापुर थाना क्षेत्र के भावरनाथ चौराहे पर स्थित काशी गोमती ग्रामीण निधि लिमिटेट में हुई सनसनी खेज चोरी का खुलासा पुलिस ने कर दिया। रविवार देर शाम कंधरापुर थानाध्यक्ष कमलनयन दुबे ने इसमें शामिल चोरों को बाहन चेकिंग के दौरान चोरी के रूपये के साथ पकड़ कर जेल भेज दिया ।ज्ञात हो कि अहरौला थाना क्षेत्र के इटौरा गाँव निवासी रविप्रकाश तिवारी ने 19-11-2021 को भावरनाथ चौराहे पर नव जीवन हॉस्पिटल के भवन में स्थित गोमती ग्रामीण निधि के कार्यालय में नकब लगा कर 4 लाख 16 हजार 9 सौ सत्तर रूपये चोरी करने का मुकदमा अज्ञात चोरों के खिलाफ कंधरापुर थाने में दर्ज कराया था। यह सनसनीखेज चोरी पुलिस के लिये  सरदर्द हो गई थी, पुलिस चोरों की तलाश में लगी रही । इसी बीच रविवार देर शाम थानाध्यक्ष कंधरापुर कमलनयन दुबे को जरिये मुखविर यह सूचना मिली कि दो चोर पल्सर मोटरसाइकिल से आजमगढ़ से विलरियागंज की तरफ आ रहे। सूचना मिलते ही कमलनयन दुबे मय फोर्स नामदार पुर से किरतपुर जाने वाली सड़क पर बाहन चेकिंग शुरू कर दी, और जैसे ही पल्सर वाइक आती दिखी घेराबंदी कर उसे रोक कर दोनों को पकड़ लिया। पूछताछ में एक ने अपना नाम मो0साजिद पुत्र एखलाक निवासी सुरजीपुर थाना महराजगंज व हालपता ग्राम अंडाखोर थाना विलरियागंज व दूसरे ने अपना नाम अरविंद राय पुत्र नरसिंह राय निवासी सुरजीपुर थाना महराजगंज बताया। पुलिस ने उनके पास से चोरी के 4 लाख सोलह हजार 9 सौ सत्तर रुपये, एक मोबाइल, एक डीबीआर, चार पासबुक व नकबजनी के औजार बरामद किया। पुलिस ने गिरफ्तार इन दोनो चोरो का सोमवार को चालान कर दिया।