विनय शंकर राय
लालगंज (आज़मगढ़) भारत के प्रथम राष्ट्रपति डॉ राजेन्द्र प्रसाद कि जयंती को दी बार एसोसिएशन के सदस्यों ने शुक्रवार को इन्द्रभानु चौबे कि अध्यक्षता में अधिवक्ता दिवस के रूप में बड़े ही धूमधाम से मनाया । अधिवक्ता दिवस समारोह के मुख्य अतिथि सेवानिवृत्त सीडीओ डॉ के डी राम ने डॉ राजेन्द्र प्रसाद के चित्र पर माल्यापर्ण व दीप प्रज्वलन का कार्यक्रम का शुभारम्भ किया । समारोह को सम्बोधित करते हुए वक्ताओं ने डॉ राजेन्द्र प्रसाद कि सादगी व ईमानदारी पर विस्तार पूर्वक चर्चा करते हुए उसे आत्मसात करने पर बल दिया । मुख्य अतिथि ने डॉ राजेन्द्र प्रसाद के कृत्यों पर विस्तार पूर्वक प्रकाश डालते हुए कहा कि अधिवक्ताओ का पेशा स्वतंत्र है, कौन नही चाहता हम आज़ाद रहे । अधिवकता समाज से लोगो को न्याय कि उम्मीद लगी रहती है । इसको बचाये रखना अधिवक्ता समाज का कर्तब्य है । समारोह को समर बहादुर सिंह, धर्मेश पाठक, राजेन्द्र प्रसाद सिंह, अशोक कुमार अस्थाना, हरी यादव, अनिरुद्ध मिश्रा, हामिद अली, रामसेवक यादव, लल्ले मिश्रा, अंजनी सिह, अमरनाथ यादव सहित कई अन्य लोगो ने सम्बोधित किया । समारोह में कैलास सिह, राम अनुज यादव, देवधारी राय, राजनाथ यादव, विनय शंकर राय, ओमप्रकाश वर्मा ,आनन्द कुमार श्रीवास्तव, संतोष कुमार सिंह, देवेन्द्र नाथ पाण्डेय, रवींद्र यादव, रवींद्र प्रताप चौहान, विजय बहादुर प्रजापति, कृष्ण कुमार मोदनवाल, दयाशंकर सिह, भोला गुप्ता सहित काफी संख्या में अधिवक्ता उपस्थित थे । कार्यक्रम का संचालन राजेंद्रलाल श्रीवास्तव ने किया ।