रिपोर्ट, वरूण सिंह
 तमिलनाडु के नीलगिरी जिले के कुन्नूर में सेना के वरिष्ठ रक्षा अधिकारियों को ले जा रहा भारतीय वायुसेना का एक

हेलीकॉप्टर बुधवार को दुर्घटनाग्रस्त हो गया, हेलीकॉप्टर में चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत सहित 14 लोग सवार थे, अब तक मिली जानकारी के मुताबिक हेलीकॉप्टर में सीडीएस बिपिन रावत के कर्मचारी और परिवार के कुछ सदस्य सवार थे, इनमें से तीन लोगों को बचाया गया है, उन्हें गंभीर चोटें आईं हैं, आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक भारतीय वायुसेना का एमआई-सीरीज हेलिकॉप्टर तमिलनाडु में कोयंबटूर और सुलूर के बीच दुर्घटनाग्रस्त हुआ है, हेलीकॉप्टर में सवाल सीडीएस बिपिन रावत सुलूर में भारतीय वायु सेना के अड्डे से कुन्नूर के वेलिंगटन जा रहे थे, जिस स्थान पर हेलीकॉप्टर क्रैश हुआ, वहां आग की ऊंची-ऊंची लपटें देखने को मिलीं, स्थानीय लोगों ने तत्काल बचाव कार्यों में मदद कर घटनास्थल से घायलों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया, मौके पर कई टीमें तलाशी और बचाव कार्य में लगी हुई हैं, हादसे के कारणों का पता लगाने के लिए भारतीय वायुसेना ने जांच के आदेश दे दिए गए हैं, दुर्घटना स्थल का एक वीडियो भी सामने आया है, जिसमें हेलिकॉप्टर में लगी आग को स्थानीय लोगों द्वारा बुझाते देखा जा सकता है, वहीं, सूत्रों का कहना है कि हेलिकॉप्टर में चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत, उनकी पत्नी, रक्षा सहायक, सुरक्षा कमांडो और वायुसेना के पायलट समेत कुल 14 लोग सवार थे, दुर्घटना स्थल से भयानक तस्वीरें सामने आ रही हैं, जिसमें हेलीकॉप्टर के जले हुए पुर्जे और कुछ डेड बॉडी भी नजर आ रही हैं, तस्वीरें देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है कि यह हादसा कितना भयानक रहा होगा, अभी तक घायलों या मृतकों की पहचान सामने नहीं आई है।