पिन्टू सिंह

(बलिया )एक तरफ उत्तर प्रदेश सरकार पढाई लिखाई पर पानी की तरह से पैसा बहा रही है। ताबड़तोड़ शिक्षकों को सस्पेंड करने के बावजूद शिक्षकों में सुधार नहीं हो रहा है।
सच्चाई जानने के लिए बेसिक शिक्षा अधिकारी स्वयं शिव नारायण सिंह ने पिछले दिनों ताबड़तोड़ कई विद्यालयों का औचक निरीक्षण किया।
नतीजा अधिकाशतः कागजों में शिक्षक आ-जा रहे है।
बावजूद इसके रसड़ा शिक्षा क्षेत्र में विधालय 10 बजे तक बंद रह रहे हैं।
बानगी के रुप में खण्ड शिक्षा अधिकारी स्वय रसड़ा प्राथमिक विद्यालय मुस्तफाबाद हरिजनबस्ती मे कागजों में खुला था मगर धरातर का सच्चाई जानने के लिए विधालय पर जब स्वय खण्ड शिक्षा अधिकारी पहुंचे तो कोई नहीं था ।
मगर जिम्मेदार प्रधानाध्यापक ,शिक्षक
सुबह 10 बजे तक स्कूल से अनुउपस्थित रहे।
👉 हालांकि लोगों में चर्चा का विषय रहा कि इतने दूर से साहब आ गए मगर जिनके कंधों पर नौनिहालों का भविष्य सुधारने की जिम्मेदारी सौंपी गई है वह सुबह 10 बजे तक नहीं पहुंचे थे अब देखना है कि इन गैर जिम्मेदार शिक्षकों सहित हेडमास्टर पर कारवाई करते हैं या दक्षिणा लेकर वारा नारा करते हैं।