श्याम सिंह
माहुल (आज़मगढ) स्थानीय नगर में स्वतंत्रता अमृत महोत्सव समिति द्वारा राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ जिला प्रचारक प्रवीण जी के नेतृत्व में सोमवार को भब्य तिरंगा यात्रा निकाली गई। भारत माता की झांकी व गाजे बाजे के साथ निकाली गई इस तिरंगा यात्रा में लगे भारत माता की जय के नारे से पूरा नगर गूंज उठा। स्वतंत्रता की 75 वीं वर्षगाँठ पर निकाली गई यह तिरंगा यात्रा माहुल के केवटाना मोहल्ले से शुरू हो कर मुख्य चौक से शंकर तिराहा होते हुये रामलीला मैदान तक गई। जहाँ पर भारत माता की आरती के बाद उसका समापन हुआ। नगर के युवा और विभिन्न स्कूलों के बच्चे हाथ मे तिरंगा लिये भारत माता की जय का नारा लगाते हुये इस तिरंगा यात्रा में आगे बढ़ रहे थे। भारत माता की झांकी आगे और ठीक उसके पीछे घोड़े पर सवार रानी लक्ष्मी बाई की झांकी का अद्भुत नजारा देख राहगीर भी रैली में शामिल लोगों के साथ अपने अपने वाहनों को रोक कर भारत माता की जय के नारे लगा रहे थे। समापन से पहले तिरंगा यात्रा को संबोधित करते हुये आरएसएस के जिला प्रचारक प्रवीण जी ने कहा कि देश भक्ति सिर्फ 26 जनवरी या 15 अगस्त को ही नही 365 दिन और 24 घंटे का विषय है। हम अपने गाँव और शहर में रह कर ही देश की वर्तमान स्थिति और भविष्य के बारे में सोच सकते है। इस तिरंगा यात्रा का उद्देश्य यही है कि हम देश के लिये बलिदान हुये बलिदानी महापुरुषों को याद करने के साथ ही साथ जर्रे जर्रे में देश प्रेम और देश भक्ति का भाव हो। प्रवीण जी ने नगर वासियों से आवाहन भी किया कि स्वतंत्रता हमारी विरासत है इसके लिये कितनो ने खून पसीना बहाया है उसकी हमे रक्षा करनी चाहिये। इस अवसर पर नगर कार्यवाह विक्रांत पाण्डेय, आरएसएस के जिला महाविद्यालय प्रमुख डा0 अविनाश पाण्डेय, सुजीत जायसवाल आंसू, समाजसेवी संदीप अग्रहरि, बृजेश मौर्य, विकास शर्मा, सचिन मोदनवाल, शिवजी सोनी, ओमप्रकाश विन्द, संजय मोदनवाल ,सलमान कुरैशी, सफ़दर अब्बास, रजनीश पाण्डेय, हरिकेश गुप्ता, राकेश चौरसिया सहित उषा इंटरनेशनल पब्लिक स्कूल, सरस्वती शिशु मंदिर, एडवांस पब्लिक स्कूल आदि के बच्चे शामिल रहे।