रिपोर्ट, अबुल फैज
(मुबारकपुर) आज़मगढ़ । समाजवादी पार्टी के फाउंडर सदस्य मौलाना इदरीस बस्तवी ने शनिवार को मुबारकपुर स्थित सपा नेता गुड्डू  मिर्ज़ा के आवास पर पहुंचने के बाद मीडिया वालों से बातचीत करते हुए कहा कि 2022 का उत्तर प्रदेश चुनाव काफी महत्वपूर्ण है उसे अत्यंत गंभीरता से लेते हुए पूरी रणनीति के साथ सेकुलर पार्टियों को चुनाव मैदान में उतरने की जरूरत है अन्यथा यह देश 1947 की स्थिति में पहुंच जाएगा। उन्होंने कहा कि आज पूरा देश चंद पूजी पतियों के हाथ में है उन्हीं के इशारे पर व्यवस्थाएं बनाई जा रही हैं और यहां तक कि नए नए कानून भी उन्हीं के इशारे पर बनाकर गरीबों किसानों और मजदूरों के भविष्य से खिलवाड़ करने का प्रयास किया जा रहा है जिसका ताजा उदाहरण कृषि कानून है किसानों के लंबे संघर्ष के बाद वापस ले लिया गया है किंतु सांप्रदायिक शक्तियां कमजोर नहीं हुई और उनके हाथ से देश की सत्ता नहीं ली गई तो फिर आने वाले दिनों में इससे भी भयंकर कानून लाए जा सकते हैं जिससे देश की एकता और अखंडता खतरे में पड़ सकती है। मौलाना ने मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्र मुबारकपुर विधानसभा के हवाले से कहा कि शिक्षा और बनारसी साड़ी उद्योग के हवाले से यह कस्बा पूरे विश्व में जाना पहचाना जाता है किंतु दुर्भाग्य की बात यह है कि आज तक मुबारकपुर का रहने वाला कोई व्यक्ति यहां का प्रतिनिधि नहीं सुना जा सका जो भी पार्टियों ने अपना उम्मीदवार यहां से लड़ाया वो बाहरी था जिसके कारण मुबारकपुर की समस्याएं दिन प्रतिदिन बांझ बनती गई यदि समाजवादी पार्टी मुबारकपुर के रहने वाले किसी व्यक्ति को मैदान में उतारती है तो सभी लोगों को एकजुट होकर उसके साथ हो जाना चाहिए ताकि ताकि मुबारकपुर की सभी समस्याओं को और बेहतर तरीके से सरकार तक पहुंचा कर उसका समाधान करा सके। इस अवसर पर मिर्ज़ा मसीहुद्दीन गुड्डू मिर्ज़ा भी मौजूद थे।