रिपोर्ट, अबुल फैज
(मुबारकपुर) आज़मगढ़ । उत्तरप्रदेश सरकार के अतिरिक्त मुख्य सचिव ग्राम्य विकास विभाग मनोज कुमार सिंह ने गरुवार को मुबारकपुर विपरण केंद्र में आयोजित हथकरघा बुनकर सभा को संबोधित करते हुए कहा कि राज्य और केंद्र सरकार हैंड लूम उद्योग को बढ़ावा देने के उद्देश्य से बीसी सखी योजना लांच की है जिसके अंर्तगत मुबारकपुर व आसपास के क्षेत्रों को चिन्हित कर हथकरघा पर तैयार होने वाली एक लाख सोलह हज़ार साड़ियों की खरीदारी का कोटा निर्धारित किया है, जिसके लिए साड़ी तैयार करने वाले बुनकरों को प्रति साड़ी 750 रु मज़दूरी की दर से उनके बैंक खाते में धनराशि सीधे उपलब्ध कराई जाएगी, जिसकी देखरेख अपर आयुक्त हैंड लूम कार्यलय मऊ द्वारा की जाएगी । उन्होंने बताया कि बीसी सखी से जुड़ी हुई 58 हज़ार महिलाओं को दो दो साड़ियां सरकार द्वारा दी जाएगी, इन साड़ियों की तैयारी का केंद्र मुबारकपुर को बनाया गया है, क्योंकि यहाँ बड़ी संख्या में हैंडलूम बुनकर साड़ियाँ तैयार करते हैं, जिनकी आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है, इसलिए इनकी जीवन सैली को बेहतर बनाने हेतु उक्त योजना के माध्यम से मुबारकपुर के बुनकरों को प्रोत्साहित किया जाएगा । एक सवाल के जवाब में उन्होंने ने बताया कि यह साड़ियाँ विशेष प्रकार की तैयार कराई जाएंगी, जिसके नमूने यहाँ के बुनकर प्रतिनिधियों विशेष रुप से इफ्तेखार अहमद मुनीब आदि को उपलब्ध करा दिए गए हैं । उन्होंने यह भी बताया कि यह योजना फिलहाल अल्पकालीन है । और इसे आगे बढ़ाने के लिए हमारा प्रयास होगा कि हैंलूम पर दूसरे प्रकार की साड़ियाँ व कपड़े तैयार कराकर सरकार द्वारा खरीदारी की जाएगी ताकि बुनकरों की रोजी रोटी चलती रहे । इससे पूर्व मनोज कुमार सिंह ने ज़िला अधिकारियों के साथ मोहल्ला आज़ाद नगर और मुहल्ला पूरा खिज़िर में जाकर बीसी सखी के लिए तैयार होने वाली साड़ी कारखानों को करीब से देखते हुए कुछ आवश्यक निर्देश दिए, इस अवसर पर संदीप मांझी एडवाइजर ग्राम्य विकास विभाग यूपी हैंलूम के प्रोडक्शन मैनेजर अनिल सिंह, जीएम प्रवीण कुमार मौर्या, जिलाधिकारी राजेश कुमार, मुख्य विकास अधिकारी आनंद कुमार शुक्ला, के साथ एडीएम एसडीएम सहित इफ्तेखार अहमद मुनीब महमूद अडोकेट ,हाजी गुलाम सरवर, अहमद ज़्या ,हरिराम आदि विशेष रूप से उपस्थित रहे।