राजेश सिंह
(अतरौलिया) आजमगढ़ । कैलाशी महिला विकास समिति द्वारा संचालित मानसिक दिव्यांग आवासीय विद्यालय ध्यानीपुर, लोहरा के तत्वाधान में संस्था का आठवां वार्षिकोत्सव तथा क्रिसमस का पर्व बड़े ही धूमधाम से मनाया गया। इस दौरान कैलाशी मानसिक दिव्यांग विद्यालय में एक कार्यक्रम का भी आयोजन किया गया, जिसके मुख्य अतिथि तहसीलदार शक्ति प्रताप सिंह रहे। कार्यक्रम में सर्वप्रथम मानसिक दिव्यांग बच्चों ने विभिन्न प्रकार के सांस्कृतिक कार्यक्रम पेश किया । सांस्कृतिक कार्यक्रम के ही दौरान ईसा मसीह को याद करते हुए संस्था के बच्चों द्वारा सैंटा क्लॉज बनके क्रिसमस का पर्व मनाया गया । तहसीलदार शक्ति प्रताप सिंह ने कहा कि खेल से ही बच्चों के अंदर विकास होता है। सांस्कृतिक कार्यक्रमों के आयोजन से बच्चों में एक नई ऊर्जा का स्रोत होता है। दिव्यांग बच्चों द्वारा किया गया सांस्कृतिक कार्यक्रम बहुत ही सराहनीय रहा । संस्था के संचालक योगेंद्र यादव ने कहा कि कैलाशी महिला विकास की स्थापना दीन दुखियों दिव्यांगों आदि की सेवा करने के लिए किया गया है जिसके उद्देश्यों को पूरा होता हुआ देखा जा रहा है। इस अवसर पर संस्था की तरफ से दिव्यांग लोगों का बनवाया गया दिव्यांग प्रमाण पत्र भी बांटा गया, तथा संस्था में सबसे ज्यादा उपस्थिति वाले स्टाफ में अशोक दिव्यांग बच्चों की सबसे ज्यादा सेवा करने वाली शिक्षिका प्रियंका राय और लीलावती देवी को सम्मानित किया गया । इस मौके पर प्रबंधक सुनीता देवी, प्रियंका राय, अशोक, गंगा प्रसाद ,लीलावती, विनीता, रेनू, नीलम मौर्या, नीलेश, प्रवीण गिरी, सुमित आदि लोग उपस्थित रहे।