रिपोर्ट, वरूण सिंह
आजमगढ़ । अहरौला थाना क्षेत्र के माहुल बाजार स्थित शराब की दुकान से शराब खरीदकर पीने से हुई मौत के बाद पुलिस अधीक्षक अनुराग आर्य ने अभियुक्तों के खिलाफ अपने तेवर दिखाना शुरू कर दिया है, अहरौला पुलिस ने जहरीली शराब में वांछित अभियुक्त मो0 नदीम पुत्र मो0 सईद निवासी-रूपाईपुर, थाना-अहरौला, मो0 कलीम पुत्र सईद, निवासी-रूपाईपुर, थाना-अहरौला, मो0 नईम पुत्र सईद, निवासी-रूपाईपुर, थाना-अहरौला, मो0 सलीम पुत्र सईद, निवासी-रूपाईपुर, थाना-अहरौला, सहबाज पुत्र रियाज निवासी-माहुल, थाना अहरौला, आजमगढ़, सलमान पुत्र इरशाद उर्फ मिस्टर निवासी-माहुल, थाना-अहरौला, आजमगढ़ को थाना अहरौला में मु.अ.स. 39/2022 के तहत धारा 60 (ए) आबकारी अधि0 व 273/273/302/34 भा0द0वि0 में मुकदमा पंजीकृत किया है, इन अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने जनपद स्तर से प्रत्येक अभियुक्त पर 25-25 हजार का नकद पुरस्कार घोषित किया है, इसी क्रम में पुलिस अधीक्षक आजमगढ़ श्री अनुराग आर्य द्वारा गोवध, हत्या, शराब तस्करी में संलिप्त रहें मोहम्मद सैफ पुत्र हैदर अली निवासी चिवरही थाना गम्भीरपुर आजमगढ़ (गोवध), प्रमोद कुमार राय पुत्र रामाश्रय निवासी अमौडा थाना गम्भीरपुर आजमगढ़ (हत्या का प्रयास) व ज्ञानचंद यादव पुत्र रामकरन यादव निवासी करेमा थाना मुबारकपुर आजमगढ़ (आबकारी) में हिस्ट्रीशीटर खोली है पुलिस अधीक्षक के इस तेवर से अपराधियों में हड़कंप मचा हुआ है