अतरौलिया से राजेश सिंह की रिपोर्ट

ग्रामीण पुनर्निर्माण संस्थान द्वारा अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर महिला सम्मेलन का आयोजन कृष्णा मैरिज हाल पर किया गया। जिसके मुख्य अतिथि आरिफ ख़ान, प्रबंधक जिला विकास राष्ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास बैंक आजमगढ एवम विशिष्ट अतिथि डॉक्टर शिवाजी सिंह अधीक्षक सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र अतरौलिया, डाक्टर राजाराम सिंह साहित्यकार एवम सर्वेश मिश्रा अधिवक्ता थे। कार्यक्रम में महिलाओं को कानूनी जानकारी देते हुए सर्वेश मिश्रा ने बताया कि महिलाओं के हित में देश में कई कानून हैं अज्ञानता और अशिक्षा के चलते महिलाएं उसे अपने हित में प्रयोग में नही कर पा रही हैं इसलिए सबसे पहले जरुरी है महिलाएं शिक्षित हो और अपने खिलाफ होने वाले शोषण के विरुद्ध अपनी आवाज बुलंद करें। कानून तो उनके साथ ही है लेकिन कानून का प्रयोग करने का साहस महिलाओं में होना चाहिए,अपना विचार व्यक्त करते हुए डाक्टर राजाराम सिंह ने कहा कि महिलाओं के ऊपर बड़ी जिम्मेदारी है महिलाओ को उन जिम्मेदारियों को पूरा करते हुए अपने हक और आधिकार की लड़ाई करनी चाहिए कभी भी किसी का कोई हक और आधिकार बिना लड़ाई के नहीं मिलता आज सरकार और संविधान के नाते महिलाओं को पंचायतों में आरक्षण मिला हुआ है लेकिन जीतती है महिला लेकिन प्रधानी उसका पति या बेटा ही कर रहा है, वह घर में ही बैठती है यह कानूनन गलत है। महिलाओं को अपने ताकत का अहसास होना चाहिए।जब तक कोई अपने ताकत और क्षमता का अहसास स्वयं नही करेगा तब तक वह अपने हक और अधिकार को नहीं पा सकता। विशिष्ट अतिथि डॉक्टर शिवाजी सिंह ने स्वास्थ्य विभाग द्वारा चलाई जा रही योजनाओं को विस्तार से बताया तथा सभी को पात्रता के अनुसार लाभ लेने के लिए सुझाव दिया। चाइल्ड फंड इण्डिया बस्ती से आए संदीप कुमार ने महिलाओं का आह्वाहन किया कि आपको किसी प्रकार से संगठित होकर अपना और अपनी समस्याओं के समाधान के लिए प्रयास करना चाहिए संगठन में और अधिक महिलाओं को जोड़ने की जरुरत है जिससे आपके द्वारा बनाई गई एग्रोज आजमगढ़ महिला फॉर्मर प्रोड्यूसर कंपनी की ताकत बढ़ सके । मुख्य अतिथि आरिफ खान ने महिलाओं को संबोधित करते हुए उनके संगठन व उपस्थिति की सराहना की और बताया कि नाबार्ड महिलाओं और ग्रामीण क्षेत्रों के विकास के लिए पूरी तरह से कटिबद्ध है आप सभी लोग जिनका बैंक में खाता न हो वो बैंक से जुड़ जाए तथा यदि आप लोग 25- 30 के समूह में किसी भी तरह के कौशल विकास जैसे ब्यूटी पार्लर, अचार मुरब्बा, वाशिंग पाउडर आदि बनाने के लिए प्रशिक्षण चाहती हैं तो ग्रामीण पुनर्निर्माण संस्थान के तरफ से आप लोगो को यह प्रशिक्षण दिलवाया जायेगा। महिलाओं द्वारा अपने समूहों में नवाचार जैसे आचार ,बड़ी, वर्मी कंपोस्ट ,जैविक खेती कृषि में तकनीकि प्रयोग के लिए आशा देवी ,सुरेखा, लक्ष्मी,नीलम, मनीता,आशा को संविधान की उद्देशिका देकर सम्मानित किया गया कार्यक्रम की अध्यक्षता एग्रोज आजमगढ़ महिला फॉर्मर प्रोड्यूसर कंपनी की अध्यक्ष नीलम ने तथा संचालन राजदेव चतुर्वेदी ने किया ।आज के कार्यक्रम में ज्योति,वन्दना सुप्रिया, दिनेश, फूला,अंजली , अंबुज, नवनीत, बालरूप सोनी, कलावती आदि ने सहयोग किया। कार्यक्रम में 20 ग्राम पंचायत की कुल 325 महिलाओं ने प्रतिभाग किया।