आजमगढ़। लोगो का आरोप है कि क्षेत्र पंचायत द्वारा प्रस्तावित/ अनुमोदित पंद्रहवाँ वित्त/पंचम वित्त योजना के अंतर्गत 4 जुलाई 2022 को हिंदुस्तान समाचार पत्र में निविदा प्रकाशित की गई थी जिसमें ईट की गिट्टी, पत्थर की गिट्टी, सीमेंट, सफेद बालू, मोरंग, सरिया, इंटरलॉकिंग ईंट आदि की सामग्री आपूर्ति हेतु पंजीकृत आपूर्तिकर्ता को की गई थी, जिसमें निविदा प्रपत्र 4 जुलाई 2022 से 18 जुलाई 2022 तक अपराह्न 2 बजे तक निविदा पेटिका में डालनी थी। 18 जुलाई दिन सोमवार को आपूर्तिकर्ता जब 12 बजे ब्लॉक परिसर में निविदा डालने पहुंचे तब वहां पर ना ही कोई लिस्ट चस्पा की गई थी और ना ही निविदा बॉक्स बनाया गया था इतना ही नहीं ब्लॉक परिसर में कोई जिम्मेदार अधिकरी मौजूद नही था। आपूर्तिकर्ताओं ने बताया कि हम लोग दिन में 12 बजे से यहां आए हुए हैं हम लोगों की निविदा को लेने वाला कोई नहीं है ना तो कोई बॉक्स है और ना ही कोई लिस्ट लगी है। आपूर्तिकर्ता घनश्याम पांडे का आरोप है कि समाचार पत्र के माध्यम से जानकारी प्राप्त हुई थी आज यहां निविदा लेकर आए हैं परंतु उसे लेने वाला कोई नहीं है। निविदा में परियोजना का जो कार्य दर्शाया गया है जैसे खंड विकास अधिकारी कुछ की मरम्मत व सुंदरीकरण, वॉशरूम की मरम्मत व सुंदरीकरण, केबिन निर्माण आदि तमाम कार्य बिना निविदा प्राप्त किए ही पहले से हो चुके हैं इसमें भारी गोलमाल किया गया है जिसमें ब्लाक के कर्मचारी व अधिकारी संलिप्त है। वही आपूर्तिकर्ता भानु प्रताप सिंह का आरोप है कि 10 दिन पहले समाचार पत्र में निविदा निकाली गई थी। हम लोग आज यहां डीडी बनवा कर आए थे परंतु यहां ताला लगा हुआ है। कई आपूर्तिकर्ताओं का आरोप है कि हम लोगों द्वारा लाखों की डीडी आदि बनवाई गई है जो पैसे पूरी तरह से फस चुके हैं जब तक अधिकारी दस्तखत नहीं करेगा तब तक पैसा नहीं निकलेगा। ब्लाक के अंदर कर्मचारियों व अधिकारियों की मिलीभगत से भ्रष्टाचार का खेल खेला जा रहा है। इस संदर्भ में खंड विकास अधिकारी हेमंत कुमार सिंह ने बताया कि जो टेंडर प्रकाशित हुआ है वह सही है लोग फार्म जमा करें जो नियमानुसार होगा वही होगा। पहले से ही यह कार्य प्रगति पर था जो पहले से चल रहा था। टेंडर पहले से भी हमारे पास है जो अधूरा था इसलिए दोबारा भी टेंडर कराया गया है वित्त वर्ष बदलने के कारण पहले की कार्ययोजना में भी हो चुका है। वही आपूर्तिकर्ता द्वारा 3ः00 बजे तक इंतजार करने के बाद भी अपना निविदा फार्म नहीं जमा किया और वापस चले गए। इस मौके पर भानु प्रताप सिंह, संदीप सिंह, घनश्याम पांडे, संदीप पांडे, रवि मिश्रा, शिवम पांडे, अनिकेत पांडे, संदीप कुमार सिंह, वीरेंद्र वर्मा आदि मौजूद रहे।