अतरौलिया, आजमगढ़। राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस 20 जुलाई 2022 और माप-अप दिवस 25 से 27 जुलाई के दौरान सभी स्कूल और आंगनवाड़ी केंद्रों में आयोजित किया जा रहा है। इसी क्रम में सोमवार को राजकीय बालिका इंटर कॉलेज अतरौलिया में कृमि संक्रमण के रोकथाम के लिए एक कार्यक्रम आयोजित किया गया। कृमि रोकथाम के लिए लोगों को जानकारी दी गई कि खुले में शौच ना करें, हमेशा शौचालय का प्रयोग करें, अपने आसपास सफाई रखें, साफ पानी व साबुन से हाथ को धोए, नाखून को साफ रखें। डॉ शिवकुमार ने बताया कि राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस के रूप में यह प्रशिक्षण रखा गया है। जिसमें 20 जुलाई को जितने भी बच्चे हैं 1 से 19 वर्ष के उनको अल्बेंडाजोल की टेबलेट खिलानी है। जो बच्चे छूट जाते हैं उनको माप-अप राउंड 25 जुलाई से 27 जुलाई के बीच में होना है उसमें उनको दवा देनी है। इस बीमारी से बच्चों के पेट में छोटे-छोटे कीड़े पाये जाते हैं जो बच्चों के विकास में बाधक होते हैं। पेट में दर्द होता है और खाना नहीं खाया जाता। ऐसे बच्चे स्कूल जाने से घबराते हैं। इन्हीं सब को देखते हुए सरकार ने एक निर्णय लिया है जो बच्चों के पेट में कृमि होते हैं उन को मारने के लिए अभियान छेड़ा जाए जिससे कृमि से बच्चे मुक्त हो। प्रपत्र के माध्यम से जो बच्चे दवा खाएंगे उनकी पूरी रिपोर्ट भरी जाएगी और शासन को भेजी जाएगी।