– लाखों रुपए से बना शव दाह गृह कटान की जद में
रौनापार, आजमगढ़। सगड़ी तहसील के उत्तरी छोर पर बहने वाली सरयू नदी का जलस्तर डिघिया नाले पर बढ़ने के बाद अब लगातार घटने लगा है जिससे देवारा कि लोगों ने राहत की सांस ली है। लेकिन दुश्वारियां अभी भी बरकरार है। डिघिया नाले पर नदी का जलस्तर 28 सेंटीमीटर कम हो गया है जिससे कटान का खतरा भी कम हो गया है। सगड़ी तहसील के देवाराचल में स्थित सरयू नदी की विनाशकारी लहरें प्रतिवर्ष तबाही मचाती हैं। पिछले वर्ष आई बाढ़ में जबरदस्त कटान हुई और सैकड़ों एकड़ जमीन कटकर नदी में बह गई थी। वहीं पर ग्राम पंचायत उर्दीहा में सरजू किनारे बना लाखों रुपए का शवदाह गृह कटान की जद में है। नदी का जलस्तर अगर थोड़ा और बड़ा तो तो कटान शुरू हो जाएगी और लाखों रुपए से बना शवदाह गृह नदी की धारा में विलीन हो जाएगा।बाढ़ प्रभावित क्षेत्र में कृषि योग्य जमीन भी पिछली बार सैकड़ों एकड़ नदी की धारा में विलीन हो गई। नदी का जलस्तर तनिक भी बढ़ता है तो कटान का खतरा खड़ा हो जाता है। जिससे देवारा क्षेत्र के लोगों की बेचैनी बढ़ गई है। बुधवार को नदी के जलस्तर में 28 सेंटीमीटर की गिरावट दर्ज की गई। बदरहुआ नाले पर नदी का न्यूनतम जलस्तर 69.78 मीटर है। अभी भी नदी का जलस्तर न्यूनतम चिन्ह से भी नीचे बह रहा है। डिघिया नाले पर पर नदी का न्यूनतम स्तर 68.90 मीटर है। नदी का जलस्तर 69.37 मीटर था जो बुधवार को 28 सेंटीमीटर घटकर 69.09 मीटर पर पहुंच गया।